scriptwater problem in reodar | जलापूर्ति में लापरवाही को लेकर जलदाय कार्यालय पर लोगों ने विरोध-प्रदर्शन कर जताया आक्रोश | Patrika News

जलापूर्ति में लापरवाही को लेकर जलदाय कार्यालय पर लोगों ने विरोध-प्रदर्शन कर जताया आक्रोश

  • - एसडीएम कार्यालय पहुंचकर दिया ज्ञापन, विरोध-प्रदर्शन वार्ड पंच बलवंत मेघवाल की अगुवाई में किया

सिरोही

Published: May 11, 2022 06:52:05 pm

रेवदर. कस्बे में जलदाय विभाग की ओर से Òजल जीवन मिशनÓ के तहत शुरू करवाए कार्य में लापरवाही बरती जाने एवं जलापूर्ति ठप होने से आक्रोशित लोगों ने समाजसेवी बलवंत मेघवाल की अगुवाई में रेवदर के जलदाय विभाग कार्यालय (ग्रामीण) पर पहुंचकर विरोध-प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की। फिर सहायक अभियंता गोविंदलाल को स्थिति के बारे में जानकारी देकर जल्द से जल्द पर्याप्त मात्रा में पानी मुहैया कराने की मांग की। सहायक अभियंता (ग्रामीण) के जवाब से नाराज होकर एसडीएम कार्यालय पहुंचे और वहां नवनियुक्त उपखंड अधिकारी दूदाराम को ज्ञापन दिया।
जलापूर्ति में लापरवाही को लेकर जलदाय कार्यालय पर लोगों ने विरोध-प्रदर्शन कर जताया आक्रोश
सिरोही. पेयजल आपूर्ति में लापरवाही को लेकर जलदाय विभाग के बाहर विरोध-प्रदर्शन करते लोग।
चार माह बीतने के बावजूद काम अधूरा

ज्ञापन के मुताबिक जल जीवन मिशन के तहत कार्य शुरू करवाए करीब चार माह से अधिक का समय बीत चुका है। दिलचस्प बात तो यह है कि जलदाय विभाग ने बिना पंचायत की एनओसी के रेवदर कस्बे की कई सड़कों की खुदाई करवा दी। काम को अधूरा छोड़ दिया, जिससे जलापूर्ति भी ठप हो गई। पाइपलाइन बिछाने में अनियमितता बरतने का भी ज्ञापन में आरोप लगाया गया है।
कई मोहल्लों में नलों से नहीं टपक रहा पानी

जब से जल जीवन मिशन के तहत रेवदर के मेघवालवास, इंद्रा कॉलोनी, राणा चौक व संतवास में काम शुरू करवाया गया, जलापूर्ति बिल्कुल बंद कर दी गई। मौजूदा हाल यह है कि वहां नलों में बिल्कुल पानी नहीं आने से लोगों को हलक तर करने के लिए पेयजल जुटाने में भारी मशक्कत करनी पड़ रही है। गरीब व श्रमिक तबके के लोगों को पानी खरीदने को विवश होना पड़ रहा हैं।
जलापूर्ति सुचारू नहीं करने पर दी आंदोलन की चेतावनी

ज्ञापन में जल्द से जल्द कार्य कर पूरा करवा कर जलापूर्ति शुरू करवाने, कार्य में कथित रूप से बरती गई अनियमितता की जांच करवाने तथा कस्बे की सडक़ों को दुरुस्त करवा कर आवागमन को सुचारू करवाने की पुरजोर मांग की गई है। कस्बे के जिन वार्डों में जलापूर्ति बंद है, वहां जलापूर्ति को सुचारु करवाने की मांग की है। लोगों ने उपखंड अधिकारी को ज्ञापन देकर चेतावनी दी कि जलदाय विभाग भीषण गर्मी के दौर में भी यदि पेयजल की आपूर्ति शुरू नहीं करेगा तो लोगों को उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होना पड़ेगा। विरोध-प्रदर्शन में समाजसेवी वार्ड पंच बलवंत मेघवाल, धीरज संत, हरीश लोहार, चेतन राव, गोपाल मेघवाल, मूपाराम, प्रदीप संत समेत कई ग्रामीण और महिलाएं उपस्थित थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.