देर से आई है सर्दी...धीरे-धीरे छाएगी, बर्फबारी...बारिश कई रंग दिखाएगी..

पश्चिमी विक्षोभ से बदलेगी मौसम की चाल, बढ़ेगी सर्दी।
मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्ट।
आगामी दो दिनों में बारिश की संभावना।

(चंडीगढ़). सर्दी के सीजन का आधा दिसम्बर बीतने को है, लेकिन अभी तक हांड कंपा देने वाली सर्दी का एहसास नहीं हुआ है। लिहाजा आगामी दो दिनों में पश्चिमी विक्षोभ की दस्तक से मौसम करवट ले रहा है। पश्चिमी विक्षोभ न केवल उत्तर भारत के राज्यों में बारिश व ओलावृष्टि की संभावना है, बल्कि पहाड़ों में भी बर्फबारी के आसार हैं। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने आगामी तीन दिनों में मौसम परिवर्तन का अलर्ट जारी किया है। खासकर मैदानी क्षेत्रों में बारिश की संभावना ज्यादा है। हरियाणा व पंजाब से लेकर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, राजस्थान व उत्तर प्रदेश में बारिश से सर्दी बढ़ेगी।
मौसम विभाग के अनुसार ईरान और अफगानिस्तान के सीमावर्ती क्षेत्रों में पश्चिमी विक्षोभ बन रहा है, जो 12 व 13 दिसम्बर को पंजाब के फिरोजपुर से होता हुआ हरियाणा व दिल्ली के ऊपर से गुजरेगा, जिससे बारिश व ओलावृष्टि की संभावना है, इसको लेकर विभाग की ओर से येलो अलर्ट जारी किया गया है।
हरियाणा के दक्षिण व पश्चिम क्षेत्र की तरफ से दिखाएगा असर
मौसम विभाग चंडीगढ़ के निदेशक डॉ. सुरेंद्र पाल के अनुसार 11 दिसंबर को पश्चिम विक्षोभ हरियाणा के दक्षिण व पश्चिम क्षेत्र की तरफ से असर दिखाएगा। यह काफी मजबूत है और इसका असर तकरीबन पूरे प्रदेश में दिखेगा। यह सिरसा, फतेहाबाद, हिसार, कैथल, कुरुक्षेत्र से होते हुए उत्तर हरियाणा की ओर आएगा। 12 दिसम्बर की शाम या 13 दिसम्बर को बारिश के साथ कुछ इलाकों में ओले पड़ सकते हैं। इसके बाद 15 दिसंबर से धुंध गहराने के आसार हैं। यही नहीं पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी की आशंका जताई जा रही है, जिससे मैदानी क्षेत्रों में सर्दी की तासीर बढ़ेगी।
12 व 13 दिसम्बर को बिजली गर्जना के साथ 30 से 40 किलोमीटर प्रतिघंटा के हिसाब से चलने वाली तेज हवा से सर्दी बढ़ेगी व कंपकपी रहेगी।
न्यूनतम तापमान में गिरावट से बढ़ेगी सर्दी
भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक न्यूनतम तापमान में गिरावट आने से सर्दी लगातार बढ़ रही है। हरियाणा व पंजाब दोनों सूबों को सर्दी अपनी जकड़ में ले रही है। मंगलवार को पंजाब का कपूरथला सबसे ठंडा रहा, यहां न्यूनतम तापमान 4.3 डिग्री सेल्यिसय दर्ज किया गया, जबकि जालंधर का तापमान 4.5 डिग्री सेल्सियस रहा। फिरोजपुर का 5.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि हरियाणा के हिसार का तापमान 6.4 डिग्री सेल्सियस और नारनौल का 6.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

Show More
satyendra porwal Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned