ऑटो चालकों की हड़ताल से शहर में यातायात प्रभावित

 ऑटो चालकों की हड़ताल से शहर में यातायात प्रभावित
Taxi Strike

Abhishek Gupta | Publish: May, 23 2017 09:00:00 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

एक दिन पहले ही सीतापुर शहर में एक ऑटो चालक की कुछ वकीलों द्वारा पिटाई किये जाने के बाद आज ऑटो चालकों ने हड़ताल कर दी जिससे सीतापुर शहर का यातायात पूर तरह से प्रभावित रहा।

सीतापुर. एक दिन पहले ही सीतापुर शहर में एक ऑटो चालक की कुछ वकीलों द्वारा पिटाई किये जाने के बाद आज ऑटो चालकों ने हड़ताल कर दी जिससे सीतापुर शहर का यातायात पूर तरह से प्रभावित रहा। इसी क्रम में आज ऑटो चालकों ने शहर के लालबाग चौराहे पर प्रदर्शन कर कई और मांगों के साथ कार्यवाही की मांग की।

ऑटो यूनियन द्वारा दिए गए ज्ञापन में साफ़ तौर पर कहा गया कि समय पर उनका उत्पीड़न होता रहता है। कभी कोई पुलिसकर्मी तो कभी यात्री मारपीट करते हैं और इसका पूरा दबाव ऑटोवालों पर ही पड़ता है। ट्रैफिक पुलिस पर भी आरोप लगाते हुए ऑटो यूनियन ने कहा कि अक्सर वह उन लोगों का उत्पीड़न करते हैं जिनसे वह सभी कल से ही बेमियादी हड़ताल पर बैठ गए हैं और समय से पूर्व मांगे न मानने तक ऑटो नहीं चलाने का निर्णय भी यूनियन द्वारा लिया गया है। इस दौरान पूर्व सभासद एहतेशाम बेग अच्छे ने यूनियन के पदाधिकारियों के साथ पैदल मार्च किया और कलेक्ट्रेट परिसर आकर ज्ञापन दिया।


यह हैं यूनियन की मांगे-
-आरटीओ कार्यालय द्वारा कैंप लगवाकर ऑटो वालों को लाइसेंस जारी किये जायें।
-नो एंट्री के वक्त को 11 से 6 के स्थान पर 11 से 4 किया जाये ताकि सवारियों को लाने और ले जाने में दिक्कत न हो।
-सीतापुर मॉडल सिटी के तहत साफ़ कराये गये लालबाग के पास के स्थान पर ऑटो स्टैंड बनवाया जाए। जिससे सवारी उस निश्चित स्थान पर उतर सके और ऑटो पकड़ सके।
-डीजल में दिन पर दिन बढ़ोत्तरी के कारण ऑटो के किराए में बढ़ोत्तरी की जाये।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned