जिला अस्पताल में ऑक्सीजन के लिए हो रहा बड़ा खेल, तीमारदारों ने लगाए गंभीर आरोप, प्रशासन बोला- सब ठीक

सूबे में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मरीज और ऑक्सीजन की किल्लत से लगातार मौतों का आकंड़ा अपने ही रिकॉर्ड ध्वस्त करता जा रहा है।

सीतापुर. सूबे में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मरीज और ऑक्सीजन की किल्लत से लगातार मौतों का आकंड़ा अपने ही रिकॉर्ड ध्वस्त करता जा रहा है। सीतापुर जिला अस्पताल में भी लगातार मरीजों की मौत का सिलसिला जारी है और स्वास्थ्य महकमे की लाचारी के आगे अपनो को खो चुके तीमारदार डॉक्टरों और स्टॉफ से उलझने और विवाद करने का सिलसिला भी बदस्तूर जारी हैं। कोविड मरीज कोई डॉक्टरों की लापरवाही तो कहीं ऑक्सीजन की कमी के चलते अस्पताल के बेड़ो पर दम तोड़ रहे है और स्वास्थ्य महकमे सहित जिला प्रशासन तीमारदारों के आरोपों को खारिज कर सब कुछ पर्याप्त मात्रा में होने का दावा करते हैं। ऐसा ही एक मामला सीतापुर जिला अस्पताल में भी सामने आया है जहां कोविड मरीज की मौत के बाद परिजनों ने डॉक्टरों पर आरोप लगाते हुए हंगामा किया।

तीमारदारों ने लगाए गंभीर आरोप

मामला सीतापुर जिला अस्पताल स्थित L2 लेवल के कोविड अस्पताल का है। यहां कोविड मरीजों के इलाज के किये कुल 199 बेडों का अस्पताल बनाया गया हैं। बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच लगातार मरीजों के भर्ती होने का सिलसिला जारी है और मौतों का आकंड़ा भी लगातार जारी हैं। यहां एक कोविड मरीज की इलाज के अभाव में हुयी मौत के परिजनों ने जमकर हंगामा काटा और डॉक्टरों पर सुविधा शुल्क लेकर ऑक्सीजन सिलेंडर देने का भी अन्य मरीजों के तीमारदारों ने आरोप लगाया। तीमारदारों का आरोप हैं कि अगर सुविधा शुल्क नही दिया गया तो आपका मरीज बगैर ऑक्सीजन के ही दम तोड़ देगा या स्वयं बाहर से हम लोग अपना सिलेंडर की व्यवस्था करें। तीमारदार डॉक्टरों के आगे बेबस और लाचार नजर आ रहे है इनकी सुनने और सुध लेने वाला कोई नही है और अगर यह हंगामा करते है तो आलाधिकारी मीडिया के सामने सब कुछ होने का दावा करके निकल जाते हैं। जिला अस्पताल में मरीजों के तीमारदारों के आरोप के बाद एसडीएम सदर अमिट भट्ट ने मौक़ा मुआयना किया और अस्पताल में सब कुछ पर्याप्त होने के दावा भी किया। लेकिन अगर देखा जाए तो तीमारदारों के आरोप के बाद हकीकत दावों से बहुत अलग हैं जिसके चलते ही मरीज दम तोड़ रहे हैं।

coronavirus
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned