मत्स्य पालन को लेकर डीएम ने की बैठक, उत्पादन बढ़ाने पर भी दिया जोर

डीएम विशाल भारद्वाज की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के अन्तर्गत जिला स्तरीय स्टेयरिंग कमेटी की बैठक सम्पन्न हुयी।

सीतापुर. डीएम विशाल भारद्वाज की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के अन्तर्गत जिला स्तरीय स्टेयरिंग कमेटी की बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने प्रस्तुत किये गये एजेण्डा बिन्दुओं की एक-एक करके समीक्षा की एवं निर्देश दिये कि योजना से लाभान्वित होने वाले मत्स्य पालकों का चयन विभागीय नियमों के आधार पर किया जाये।डीएम ने स्पष्ट निर्देश दिये कि स्वामित्व की पुष्टि संबंधित तहसीलदार से अवश्य करा ली जाये,साथ ही जनपद में योजनाबद्ध तरीके से मत्स्य उत्पादन को बढ़ाने के लिये प्रयास किये जायें, जिससे जनपद की आवश्यकताएं तद्नुसार पूर्ण हो सकें एवं निर्यात भी किया जा सके जिससे मत्स्य पालकों की आय में वृद्धि हो। उन्होंने भविष्य की आवश्यकताओं को दृष्टिगत रखते हुये कार्ययोजना बनाये जाने के भी निर्देश दिये।

डीएम ने दिये निर्देश

कृषि विज्ञान केन्द्र कटिया के वैज्ञानिक डा. आनन्द के परामर्श पर जिलाधिकारी ने भुवनेश्वर स्थित सेन्ट्रल इन्स्टीट्यूट ऑफ फिशरीज के वैज्ञानिकों से वेबमीट द्वारा प्रगतिशील मत्स्य पालकों को प्रशिक्षण दिलाये जाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिये कि पट्टे पर दिये गये जल श्रोत का संरक्षण किया जाये तथा उसके स्वरूप को कतई न बिगाड़ा जाय। सहायक निदेशक मत्स्य द्वारा ए.सी. श्रीवास्तव द्वारा जिला स्टेरिंग कमेटी का एजेण्टा प्रस्तुत किया तथा भारत सरकार द्वारा मत्स्य उत्पादन में वृद्धि हेतु संचालित योजनाओं के विषय में जानकारी दी। बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी संदीप कुमार सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned