कोविड मरीजों की देखरेख में लगे डॉक्टरों ने खोला बड़ा राज, स्वास्थ्य विभाग पर लगाये गंभीर आरोप

सूबे में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर सरकारी दावे को बहुत किये जा रहे हैं, लेकिन इन दावों की कितनी हकीकत है, उसका जीत जागता उदाहरण उस वक्त सामने आ गया जब कोविड मरीजों की सेवा में लगे डॉक्टरों ने स्वास्थ्य महकमे की पोल खोल कर रख दी।

सीतापुर. सूबे में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर सरकारी दावे को बहुत किये जा रहे हैं, लेकिन इन दावों की कितनी हकीकत है, उसका जीत जागता उदाहरण उस वक्त सामने आ गया जब कोविड मरीजों की सेवा में लगे डॉक्टरों ने स्वास्थ्य महकमे की पोल खोल कर रख दी। कोविड वार्ड में तैनात डॉक्टरों ने सीतापुर स्वास्थ्य महकमे पर गंभीर आरोप लगाये है। उनका कहना हैं कि यहां डॉक्टरों के रहने खाने की कोई भी व्यापक सुविधा नही दी जा रही हैं और हम लोगों को इससे अत्यधिक खतरा भी बना हुआ है। उनका आरोप हैं कि अगर हम लोग कोविड मरीजों के आस-पास ही रहेंगे तो उन्हें भी संक्रमण का खतरा रहेगा और अगर डॉक्टर ही सुरक्षित नही रहेंगे तो कोविड मरीजों का इलाज कैसे हो पायेगा। डॉक्टरों ने इन आरोपो के बाद स्वास्थ्य महकमे में हड़कम मचा हुआ है।

डाक्टरों ने किया खुलासा

मामला सीतापुर सदर जिला अस्पताल में स्थित L2 लेविल के कोविड अस्पताल का है। यहां पर कोविड मरीजो की देखरेख में लगे डॉक्टरों और स्टॉफ नर्स,वार्डबॉय का आरोप हैं कि उन्हें कोविड मरीजों के बीच ही एक कमरे में रहने के लिए दिया गया है जिसमे वह चार चार लोग एक साथ रहकर मरीजों की देखभाल कर रहे हैं। डॉक्टरों का कहना हैं कि उनके स्टाफ के 3 डॉक्टर,वार्डबॉय और स्वीपर पॉजिटव हो चुके है क्योंकि यहां संक्रमण का खतरा अधिक रहता हैं। डॉक्टरों का कहना हैं कि उनकी स्वास्थ्य विभाग से मांग हैं कि उन्हें कोविड मरीजों से अलग किसी सुरक्षित स्थान पर रखा जाएगा और उनके खाने पीने का समुचित इंतजाम किए जाए जिससे वह खुद सुरक्षित रहकर कोविड मरीजों की देखभाल कर सकें। डॉक्टरों का कहना हैं कि यहां वार्ड में सुविधा न होने के चलते उनका स्टॉफ रोजाना घर से आते जाते है जिससे कि इस संक्रमण के घर तक फैलने का भी खतरा अधिक हैं। उनका कहना हैं कि डॉक्टरों को यहां किसी प्रकार के सुरक्षा के इंतजाम नही है वह अभी सुविधानुसार मरीजों से बचने के उपाय करके मरीजों की देखभाल कर रहे हैं। सीतापुर कोविड मरीजों की देखभाल में लगे डॉक्टरों ने स्वास्थ्य विभाग की पोल खोल कर रख दी है कि जो दावे आज तक कागजों पर किये जा रहे थे वह हकीकत में महज खोखले ही साबित हो रहे हैं।

coronavirus
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned