फर्जी अपहरण की सूचना देना युवक को पड़ा भारी, पुलिस ने गिरफ्तार कर की बड़ी कार्रवाई

मामला पिसावां थाना क्षेत्र का हैं...

सीतापुर. एक युवक को अपने अपहरण की फर्जी सूचना देना और पुलिस को गुमराह करना महंगा पड़ा। पुलिस ने इलाके के एक पुल के नीचे से युवक रहस्यमय ढंग से बरामद किया हैं। पुलिस ने युवक के खिलाफ सुसंगत धाराओं में केस दर्ज कर कार्यवाई शुरू कर दी हैं। पुलिस का कहना हैं कि युवक ने अपने ससुराल वालों को झूठे मुकदमे में फंसाने के लिए अपने अपहरण की झूठी कहानी रच डाली दी। पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद युवक ने अपनी पूरी आपबीती बताई और कहानी से पर्दा उठाया।


फर्जी कहानी रचकर पुलिस को किया गुमराह

मामला पिसावां थाना क्षेत्र का है। यहां हरदोई जनपद के पिहानी थाना क्षेत्र के ग्राम जलालपुर निवासी संदीप कुमार का पुत्र रामचंद्र पांच जून को अपनी ससुराल सीतापुर जनपद के पिसावां थाना क्षेत्र ग्राम गालिबपुर आया हुआ था। मिली जानकारी के मुताबिक ससुराल में रामचंद्र और उसकी पत्नी के मध्य किसी बात को लेकर विवाद हुआ और ससुराल पक्ष के लोगों ने रामचंद्र की पिटाई कर दी। पुलिस के मुताबिक रामचंद्र ने विवाद के बाद अपने पिता को 10 जून को फ़ोन कर ससुराल वालों से विवाद होने की बात बताई और वहां से घर आने की बात कहकर फोन काट दिया। इसके उपरांत जब वह घर नही पहुंचा तो पिता को चिंता हुयी तो उन्होंने बेटे रामचंद्र के लापता होने की सूचना पुलिस को दी।


पुलिस ने किया गिरफ्तार

बीती देर शाम एक अज्ञात युवक का फ़ोन आया और थाना क्षेत्र के भकुरहा पुल के पास एक युवक रस्सी से बांधकर फेकने की सूचना प्राप्त हुयी। इस सूचना के आधार पर लापता रामचन्द्र को रहस्मय तरीके से थाने लाया गया और पूछताछ शुरू की गयी तो हकीकत कुछ और ही निकली। पुलिस की पूछताछ में युवक ने अपनी आपबीती बतायी और अपने अपहरण की झूठी कहानी रचने की भी बात स्वीकार की। गिरफ्तार युवक ने बताया कि उसमें ही अपने अपहरण और नदी में बांधकर फेकने की सूचना पुलिस को दी थी जिससे वह ससुरालवालों के खिलाफ केस दर्ज करा सकें। पुलिस ने गिरफ्तार युवक के खिलाफ सुसंगत धाराओं में केस दर्ज कर कार्यवाई शुरू कर दी हैं।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned