कल्बे जव्वाद ने जिन्ना के मसले पर कहा- ऐसे निकलेगा रास्ता

सीतापुर के दौरे पर आये शिया धर्म गुरु ने कहा कि एएमयू देश की प्रतिष्ठित शैक्षिक संस्था है।

Abhishek Gupta

Updated: 05 May 2018, 07:43:17 PM (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India

सीतापुर. शिया धर्म गुरु मौलाना कल्बे जव्वाद ने एएमयू में जिन्ना की तस्वीर को लेकर चल रहे विवाद का दोनों पक्षों से मिल बैठकर रास्ता खोजने की सलाह दी। सीतापुर के दौरे पर आये शिया धर्म गुरु ने कहा कि एएमयू देश की प्रतिष्ठित शैक्षिक संस्था है। यहाँ पर हिंसक घटनाएं किसी भी दृष्टिकोण से उचित नहीं है। एएमयू में अब तक हिन्दू मुसलमान दोनों वर्गों के छात्र आपस में साथ रहकर अध्यन करते रहे हैं। हैरत की बात यह है कि एएमयू में जब हिंसक घटनाएं हो रही थी तो वहां से सिर्फ 50 मीटर की दूरी पर पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ठहरे हुए थे। ऐसी घटनाओं से उनकी सुरक्षा को भी खतरा हो सकता था। यह घटनाएं पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ की नीति के भी खिलाफ है। इस पर बातचीत के जरिये हल निकालने की कोशिश की जानी चाहिए।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned