महंत सियाराम दास यौन उत्पीडऩ मामले में गिरफ्तार

महंत सियाराम दास यौन उत्पीडऩ मामले में गिरफ्तार
Mahant Siyaram Das

Shatrudhan Gupta | Updated: 26 Sep 2017, 10:07:55 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

बाबाओं पर यौन शौषण के आरोप के मामले हर रोज सामने आ रहे हैं। अब ताजा मामला विश्व प्रसिद्ध चक्रतीर्थ नैमिषारण्य के कथित महंत सियाराम दास का है।

सीतापुर. बाबाओं पर यौन शौषण के आरोप के मामले हर रोज सामने आ रहे हैं। अब ताजा मामला विश्व प्रसिद्ध चक्रतीर्थ नैमिषारण्य के कथित महंत सियाराम दास का है। महंत सियाराम दास दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार किए गए हैं। बताया जाता है कि सोमवार रात जिले के रामपुर कलां थाना क्षेत्र की एक युवती की शिकायत पर पुलिस ने सियाराम दास और उसके स्कूल की प्रबंधन रिन्टू सिंह के खिलाफ मामला दर्ज किया है। केस दर्ज करने के बाद रामपुर कलां थाना पुलिस ने कथित महंत के ठिकाने पर छापामार कर उसे गिरफ्तार कर लिया। वहीं, दूसरा आरोपी रिन्टू सिंह फरार हो गया। पुलिस उसे पकडऩे के लिए छापेमारी कर रही है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही रिन्टू को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

पीडि़ता ने डायल 100 को दी सूचना
संत आशाराम, बाबा राम रहीम, संत रामपाल और फलाहारी बाबा के बाद अब विश्व प्रसिद्ध चक्रतीर्थ नैमिषारण्य के कथित महंत सियाराम दास पर दुष्कर्म का आरोप एक युवती ने लगाया है। मालूम हो कि महंत सियाराम दास कॉन्वेन्ट स्कूल, एक इंटर कॉलेज और एक लॉ कॉलेज का स्वामी है। लॉ कॉलेज का उद्घाटन सन् 2015 में हुआ था। मिश्रिख के पुलिस क्षेत्राधिकारी राधारमण सिंह के मुताबिक सोमवार देर रात युवती ने यूपी डायल 100 पुलिस को उत्पीडऩ मामले की सूचना दी। पुलिस सियाराम दास को उसके आवास से युवती के साथ पकड़ कर थाने ले आई। क्षेत्राधिकारी राधारमण सिंह के मुताबिक प्रथम दृष्टया युवती के आरोप सही पाए गए हैं। इसके बाद आरोपी महंत पर केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं, उसका दूसरा साथी रिन्टू मौके से फरार हो गया है। उसे जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

एससी-एसटी एक्ट की धाराओं में भी मामला दर्ज
रामपुर कलां थाना पुलिस के मुताबिक सियाराम दास व उसके स्कूलों की प्रबंधिका के खिलाफ दुष्कर्म और एससी-एसटी की धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है। सीओ ने बताया कि कथित बाबा सियाराम दास को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि प्रबंधिका रिन्टू सिंह की तलाश की जा रही है। सियाराम दास मिश्रिख कस्बे में कक्षा आठ तक एक इंग्लिश मीडियम स्कूल, एक इंटर कॉलेज और एक लॉ कॉलेज का संचालन करता है। बताया जाता है कि वह एक डिग्री कॉलेज भी खोलने की तैयारी में था।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned