अवैध शस्त्र फैक्ट्री का पुलिस ने किया भांडाफोड़, एक तस्कर गिरफ्तार

पुलिस ने मौके से फैक्ट्री को संचालित करने के उपकरण भी बरामद किए हैं।

सीतापुर. पंचायत चुनाव के नजदीक आते ही अवैध शस्त्र माफिया धड़ल्ले से अपना कारोबार स्थापित करने लगते हैं और बड़े पैमाने पर हथियारों की तस्करी सीतापुर समेत आसपास के जनपदों जैसे लखीमपुर लखनऊ बाराबंकी हरदोई उन्नाव में करते हैं। पुलिस ने इन माफियाओं की कमर तोड़ने के लिए प्रत्येक थानावार अभियान चलाकर कार्रवाई की है। पुलिस ने मुखबिर की सूचना के आधार पर अवैध शस्त्र फैक्ट्री का भंडाफोड़ करने का दावा किया है। पुलिस ने फैक्ट्री में संचालित कर रहे हैं एक अभियुक्त को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से भारी मात्रा में अवैध शस्त्र बरामद किए है। पुलिस ने मौके से फैक्ट्री को संचालित करने के उपकरण भी बरामद किए है।

पुलिस ने पकड़ी शस्त्र फैक्ट्री

मामला बिसवां कोतवाली थाना क्षेत्र का है। यहां पुलिस ने मुखबिर की सूचना के आधार पर बिसवां के टेढ़ी पुरवा निवासी इलियास पुत्र पुत्तू को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की हैं। मिली जानकारी के मुताबिक, पुलिस ने गांव के बाहर छापेमारी करते हुए एक अवैध शस्त्र फैक्ट्री बनाने का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने मौका ए वारदात से 14 निर्मित अवैध तमंचे और बंदूक के साथ-साथ भारी मात्रा में कारतूस भी बरामद किए हैं। पुलिस का कहना है कि आधा दर्जन से अधिक अर्ध निर्मित तमंचे और बंदूक बरामद हुए हैं और साथ ही शस्त्र फैक्ट्री को संचालित करने में प्रयुक्त उपकरणों को भी बरामद करने में सफलता प्राप्त हुई है।

भेजे गए जेल

पुलिस का कहना है कि गिरफ्तार अभियुक्त सीतापुर समेत आसपास के जनपदों में पंचायत चुनाव के दौरान तमंचे की डिमांड होने पर निर्मित कर सप्लाई करने का भी काम करता था। पुलिस ने गिरफ्तार अभियुक्त के खिलाफ शस्त्र अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि इस गिरोह के अन्य सदस्यों की भी तलाश की जा रही है जिन्हें जल्द गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा। पुलिस का यह भी दावा है कि इन शस्त्र फैक्ट्री के पर्दाफाश से आगामी पंचायत चुनाव में होने वाली वारदातों वारदातों पर लगाम लगाया जा सकेगा।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned