चोरों ने सीमा पर तैनात फौजी के घर को बनाया अपना निशाना

चोरों ने सीमा पर तैनात फौजी के घर को बनाया अपना निशाना

Ruchi Sharma | Updated: 25 Jun 2018, 05:55:11 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

20 हजार की नगदी समेत साढ़े तीन लाख के जेवर पर हाथ किया साफ

सीतापुर. जिले में चोरों ने एक फौजी के घर को अपना निशाना बनाया है। बेखौफ चोरों ने बाउंड्री फांदकर घर में घुसकर 20 हजार की नगदी और सोने चांदी के जेवरात तकरीबन साढ़े तीन लाख के कीमत के माल पर हाथ साफ कर दिया और मौके से फरार हो गए। चोरों ने वारदात को उस वक्त अंजाम दिया जब गृहस्वामिनी लाइट जाने के बाद अपने बच्चों के साथ छत पर सो रही थी। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने डॉग स्क्वायड और फिंगरप्रिंट टीम की मदद से जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

 

सुरक्षित नहीं है अब फौजियों के घर

देश की सुरक्षा के लिए सीमा पर तैनात सेना के जवान अपनी जान की बाजी लगाने से ही पीछे नहीं हटते है। वहीं देश एक भीतर उनके परिवार की सुरक्षा को लेकर व्यवस्था उदासीन है। इसका ताजा उदाहरण सीतापुर के रामकोट थाना क्षेत्र स्थित नवीन चौक का है। यहां के रहने वाले सैनिक अवनीश कुमार नासिक में तैनात है।

 

उनकी पत्नी सीमा अपने बच्चों के साथ यहां घर पर रहती थी। बीती रात अचानक लाइट चली जाने के बाद सीमा आपने बच्चों को लेकर छत पर चली गयी। लाइट में देर आता देख सीमा और उसके बच्चे छत पर ही सो गए। इसी दौरान अज्ञात चोरों ने बाउंड्री फांदकर घर में दाखिल हो गए और घर का दरवाजे के ताला तोड़कर कमरे में रखे बक्शे और अलमारी का ताला तोड़कर उसमे रखी 20 हजार की नगदी और सोने चांदी के जेवरात पर हाथ साफ कर दिया और मौके से फरार हो गए। चोरों ने घर मे रखे लैपटॉप और मोबाइल फोन को हाथ नही लगाया।


पुलिस ने शुरू की जांच पड़ताल

घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने मौका मुआयना किया और डॉग स्क़वायड और फिंगरप्रिंट टीम की मदद से नमूने लिए और जांच पड़ताल शुरू कर दी है। पुलिस टीम का कहना है कि जिस तरह चोरों ने सिर्फ नगदी और जेवर पर हाथ किया है और बाकी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण और मोबाइल लैपटॉप को हाथ नही लगाया है उससे यह ज्ञात होता है कि यह पेशेवर चोर नहीं है बल्कि टप्पेबाज प्रतीत हो रहे है। हालांकि पुलिस का कहना है कि फौजी के घर हुयी चोरी पुलिस के चुनौती है और वह उसे जल्द ही चोरों को गिरफ्तार कर पर्दाफाश करेंगे।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned