सरायन नदी को भगीरथ के रूप में मिला यह शख़्स, निजी खर्च पर कराया यह बड़ा काम, देखें वीडियो

बीजेपी के सदर विधायक राकेश राठौर की इस पहल से नदी को मिला वजूद

By: नितिन श्रीवास्तव

Published: 18 Dec 2018, 10:12 PM IST

Sitapur, Sitapur, Uttar Pradesh, India

सीतापुर। शहर के बीच से निकलने वाली सरायन नदी का स्वरूप बदलने की कवायद नगर विधायक राकेश राठौर की तरफ से शुरू की जा चुकी है। विधायक ने अपने संसाधनों पर भरोसा करते हुए शहर के 7 किलोमीटर के दायरे से निकलने वाली सरायन नदी की सफाई का बीड़ा उठाया है। शासन व प्रशासन की तरफ से किसी भी तरह की मदद न मिलने के बावजूद विधायक राकेश राठौर ने खुद ही पोकलैंड मशीन व जेसीबी के जरिये काम की शुरुआत कर दी है। नदी की सफाई के 70 दिन से भी ज्यादा गुजर जाने के बाद वास्तव में नदी का स्वरूप बदलता हुआ दिखाई दे रहा है । जहां एक तरफ नदी की गंदगी में कमी आयी है ,वही दूसरी तरफ नदी की चौड़ाई भी बड़ी है ।

अक्टूबर 2018 में जब विधायक राकेश राठौर ने नदी की सफाई का बीड़ा उठाया तो किसी को भी यकीन नही था कि उनकी ये कोशिश परवान भी चढ़ सकेगी,क्योंकि लोगो को ऐसी बातों के पूरा होने पर यकीन कम ही होता है। लेकिन अब 2 महीने से ज्यादा बीत जाने के बाद भी नदी की सफाई का काम लगातार जारी है। यहां तक विधायक नदी की सफाई के बाद के साथ शहर से आने वाले गंदे पानी के साथ आने वाली पालीथीन को रोकने के लिए बाकायदा अनेक पुलियों का निर्माण भी अपनी निधि के जरिये करा रहे है ।जिसमे जाली लगे हुए पाइप होंगे जोकि गंदगी को नदी में गिरने से रोकेंगे । विधायक राकेश राठौत ने नदी की सफाई के बाद किनारे पर वृक्षरोपण के अलावा लोगो के लिए रनिंग ट्रैक भी बनाने का इरादा रखते है। 7 किलोमीटर की सफाई में से लगभग 4 किलोमीटर का काम पूरा भी हो चुका है । बताया जा रहा कि नदी जोकि नाले में तब्दील हो चुकी थी,उसकी सफाई से शहर के पानी का स्तर भी बढ़ेगा.साथ ही नदी में मछलियों की आमद भी दिखई देने लगी है.जिसके चलते स्थानीय लोग भी काफी खुश है.

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned