उत्तर प्रदेश की अब तक की 10 बड़ी खबरें, जो बनीं अखबारों की सुर्खियां

आज के अखबारों में छपी 10 बड़ी खबरें, यहां पढ़ें कहां क्या हुआ...

लखनऊ. शुक्रवार, 3 जनवरी, 2020 को राजधानी लखनऊ से प्रकाशित विभिन्न समाचार-पत्रों में यह अहम सुर्खियां छाई हुई हैं।

सर्दी का सितम: बारिश ने बढ़ाई ठिठुरन

दिन में चटख धूप ने लोगों को सर्दी से राहत दी लेकिन देर शाम बादलों की आवाजाही और बारिश ने फिर ठंड बढ़ा दी। बादलों की आवाजाही की वजह से पारे के गिरावट को थोड़ा विराम लगा है। बावजूद इसके बारिश थमने के बाद ठिठुरन और गलन फिर बढ़ने की सम्भावना है। दो दिन बारिश के आसार:मौसम विभाग के अनुसार फिलहाल अगले दो दिनों में राज्य के अलग-अलग हिस्सों में बारिश होने और कहीं-कहीं ओले पड़ने के आसार बने हुए हैं।

बेईमान अफसरों को घर बैठाएं: योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कई विभागों के कामकाज में ढिलाई पर नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा है कि लापरवाह व बेईमान अफसर चिन्हित किए जाएं। उन्हें चेतावनी दें। अगर नहीं मानते हैं तो उन्हें घर बैठा दें। नए साल में मुख्यमंत्री ने गुरुवार को शासन में तैनात सभी अपर मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिवों की बैठक बुला कर उनके द्वारा काम की समीक्षा की।

राहत: बिजली दरों में बढोतरी पर लगी रोक

बिजली दरें बढ़ाने के पावर कॉरपोरेशन के फैसले पर विद्युत नियामक आयोग ने तत्काल रोक लगा दी है। आयोग ने अपने आदेश में कहा है कि जब तक वह कोई निर्णय नहीं करता, तब तक दरों में वृद्धि न की जाए। इस निर्देश के बाद पावर कॉरपोरेशन ने अपने सॉफ्टवेयर से बढ़ी दरों का डाटा हटा दिया है।

जिम्मेदारी : अयोध्या मामले पर केंद्र सरकार ने विशेष डेस्क बनाई

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से संबंधित सभी मामलों पर गौर करने के लिए विशेष डेस्क बनाई है। इस डेस्क की अध्यक्षता अतिरिक्त सचिव ज्ञानेश कुमार करेंगे। अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के करीब दो महीने बाद केंद्र सरकार ने इससे संबंधित सभी मामले को देखने के लिए यह विशेष डेस्क बनाई है। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने गुरुवार को कहा कि इस डेस्क पर तीन अधिकारी तैनात किए गए हैं।

भाजपा न हिंदू धर्म जानती है, न मानती है: अखिलेश

सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा की सरकार बदलने पर ही जनता के लिए नववर्ष आएगा। भाजपा न हिंदू धर्म को जानती है और न उसे मानती है। अखिलेश यादव ने यह बात गुरुवार को पार्टी मुख्यालय में कार्यकर्ताओं के बीच कही। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार ने अपने पूरे कार्यकाल में समाज को बांटने और लोगों को परेशान करने का ही काम किया है। सीएए, एनआरसी और एनपीआर तीनों व्यवस्थाएं साजिश हैं और भारतीयों के विरूद्ध है।

फैज की नज्म नहीं, प्रदर्शन की जांच कर रहे: आईआईटी

मशहूर शायर फैज अहमद फैज की नज्म में हिंदू विरोध की जांच का आदेश देने के बाद गुरुवार को आईआईटी प्रशासन पलट गया। संस्थान के उपनिदेशक प्रो. मणींद्र अग्रवाल ने एक वीडियो जारी कर साफ किया कि हम फैज की नज्म नहीं बल्कि विरोध-प्रदर्शन की जांच कर रहे हैं। निदेशक ने बुधवार को कहा था कि नज्म में हिंदू विरोध है या नहीं जांच होगी। पर अगले दिन उपनिदेशक ने कहा, हम सिर्फ प्रदर्शन की जांच कर रहे हैं।

उन्नाव दुष्कर्म कांड में आरोप तय किए

उन्नाव कांड की पीड़िता से सामूहिक दुष्कर्म के आरोपियों पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश अनूप कुमार गोयल ने आरोप तय कर दिया है। इसके साथ ही सुनवाई के लिए नौ जनवरी नियत की है। सुनवाई की तिथि निर्धारित होने के बाद दोनों आरोपियों को वापस उन्नाव जेल भेज दिया गया।

शिवाकांत द्विवेदी एलडीए के नए उपाध्यक्ष बने

राज्य सरकार ने नए साल के दूसरे दिन गुरुवार को भी नौकरशाही में भारी फेरबदल करते हुए 45 अफसरों को नई तैनाती दी है। इसमें 15 आईएएस और 30 पीसीएस अफसर हैं। जितेंद्र कुमार से पहले प्रमुख सचिव पर्यटन और संस्कृति विभाग का अतिरिक्त चार्ज हटा दिया गया, लेकिन चार घंटे बाद ही यह इसे फिर वापस कर दिया गया।

शत प्रतिशत जन्म-मृत्यु पंजीकरण अनिवार्य

उत्तर प्रदेश में आगामी पहली फरवरी से जन्म-मृत्यु पंजीकरण सिविल रजिस्ट्रेशन सिस्टम (सीआरएस) के नये पोर्टल पर ही होगा। 31 जनवरी, 2020 के बाद जन्म-मृत्यु पंजीकरण के लिये ई-डिस्ट्रिक पोर्टल तथा ई-नगर सेवा के माध्यम से पंजीकरण की समानान्तर व्यवस्था पूरी तरह से बंद होगी। मुख्य सचिव आर के तिवारी ने यह निर्देश नगर विकास विभाग एवं पंचायती राज विभाग के प्रमुख सचिव तथा समस्त जिलाधिकारियों को जारी किये हैं।

4000 शिक्षक पदों के लिए लिखित परीक्षा शीघ्र

एडेड जूनियर हाईस्कूलों में लगभग 4000 शिक्षकों व प्रधानाध्यापक के पदों पर भर्ती जल्द होगी। इसके लिए राज्य स्तरीय लिखित परीक्षा का जिम्मा परीक्षा नियामक प्राधिकारी को सौंपा गया है। राज्य सरकार ने इन भर्तियों पर लगे सारे प्रतिबंध हटा लिये हैं। प्रदेश में 3049 एडेड जूनियर हाईस्कूल हैं इनमें लगभग 4 हजार पद खाली हैं।

Show More
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned