पिता ने खुशी के लिए दोस्तों को तोहफे में दी अपनी बेटी, साथ मिलकर किया बलात्कार

पिता ने खुशी के लिए दोस्तों को तोहफे में दी अपनी बेटी, साथ मिलकर किया बलात्कार

Abhishek Gupta | Publish: Apr, 19 2018 12:44:48 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

पुलिस का कहना है कि केस दर्ज कर लिया गया है और महिला को मेडिकल के लिये भेज कर उसके पुत्र की बरामदगी के साथ-साथ फरार आरोपियों की तलाश कर रही है।

सीतापुर. जिले के कमलापुर थाना इलाके में दो दिन पूर्व बहाने से एक महिला को ले गये पिता व उसके मित्रों ने अलग-अलग जगहों पर बंधक बनाकर उसके साथ दुराचार किया। इसका विरोध करने पर आरोपियों ने पीड़िता व उसके पुत्र की पिटाई भी की और मुंह खोलने पर उसके पुत्र को जान से मारने की धमकी दी। आरोपियों की गिरफ्त से किसी तरह अकेले छूटकर आई महिला ने कमलापुर पुलिस को आप बीती बताते हुये मामले की तहरीर दी और अपने पुत्र की बरामदगी की गुहार लगाई। पुलिस का कहना है कि केस दर्ज कर लिया गया है और महिला को मेडिकल के लिये भेज कर उसके पुत्र की बरामदगी के साथ-साथ फरार आरोपियों की तलाश कर रही है।

बेटी को सामान खरिदवाने के बहाने ले गया

थाना कमलापुर इलाके के ग्राम दाउदपुर निवासी 35 वर्षीय एक महिला ने पुलिस को तहरीर देते हुये आरोप लगाया कि 15 अप्रैल की दोपहर को उसका पिता गुरूप्रसाद अपने मित्र मान सिंह पुत्र छोटेलाल निवासी गांव चपरवा के साथ आया और उसे समान खरिदवाने के बहाने पुत्र मोहित सहित ले गया। वहीं चपरवा गांव के निकट उसके पिता गुरुप्रसाद और उसके मित्र मान सिंह ने उसके साथ बलपूर्वक दुराचार किया और उसे अपने मित्र मेराज, निवासी दिलेर नगर के घर छोड़ आया।

दो दिन तक कई बार किया दुराचार

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वहां मेराज ने भी उसकेे साथ दो दिन तक कई बार दुराचार किया और विरोध करने पर उसकी तथा उसके पुत्र की पिटाई भी की। साथ ही मुंह खोलने पर जान से मारने की धमकी भी दी। बताते चलें कि 16 अप्रैल की रात किसी तरह आरोपी के चंगुल से अकेले छूटकर पीड़िता दिलेरनगर से कमलापुर थाने पहुंची और थानाध्यक्ष को आप बीती बताई। मामला संज्ञान में आने पर कमलापुर पुलिस ने गुरुप्रसाद, मान सिंह व मेराज के खिलाफ केस दर्ज करते हुये अभियुक्तों की गिरफ्तारी के साथ-साथ पीड़िता के पुत्र की बरामदगी के प्रयास शुरू कर दिये है।

पिता के मित्रों की भी भूमिका संदिग्ध दिखाई पड़ी

थानाध्यक्ष संजीत सोनकर ने बताया कि मामले में पिता सहित उसके मित्रों की भी भूमिका संदिग्ध दिखाई पड़ती है। फिलहाल टीमें बनाकर पीडिता के पुत्र की बरामदगी के साथ-साथ अभियुक्तों की गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे हैं।

Ad Block is Banned