नगर परिषद चुनाव: 115 करोड़ का पेश होगा अंतिम बजट, अप्रैल-मई में होगा इलेक्शन 

38 वार्डों वाले शहर की बड़ी आबादी के सामने अब भी सड़क, नाली, पेयजल जैसी समस्याओं से निजात की चुनौती बरकरार है।

By: इन्द्रेश गुप्ता

Published: 04 Feb 2017, 04:31 PM IST

सीवान। नगर पर्षद का अप्रैल-मई में चुनाव होना है। इससे पहले नगर पर्षद का बोर्ड अपना अंतिम बजट पेश करने की तैयारी में जुटा है। जट में लोगों को रिझाने के लिए उनके हर दिन अपने आस-पास की जूझती समस्याओं से निराकरण का फॉर्मूला तय किया जा सकता है। इसको लेकर वार्ड पार्षद प्रयासरत हैं।

आने वाले बजट में चुनावी झलक दिखने की संभावना है। तकरीबन दो लाख से अधिक आबादी वाले शहर के लोगों की निगाहें वर्ष 2017-18 के बजट पर टिकी हैं। 38 वार्डों वाले शहर की बड़ी आबादी के सामने अब भी सड़क, नाली, पेयजल जैसी समस्याओं से निजात की चुनौती बरकरार है।

इन समस्याओं से राहत मिलने की लोगों को हर वर्ष उम्मीद रहती है। इस दिशा में काफी हद तक कामयाबी भी मिली है। इसके बाद भी जनसरोकार से जुड़ीं इन समस्याओं के निदान के लिए अब भी बहुत सारे कार्य किये जाने शेष हैं। नगर पर्षद के मौजूदा बोर्ड का कार्यकाल जून में समाप्त हो रहा है।

इसके पूर्व ही नए सदस्यों के चुनाव कर लिए जाने हैं। ऐसे में अप्रैल-मई में प्रस्तावित चुनाव के तकरीबन दो माह पूर्व बोर्ड का बजट स्वीकृत होना है। इसकी तैयारी में सभापति बबलू प्रसाद व कार्यपालक पदाधिकारी आरके लाल के निर्देश पर कर्मचारी लगे हुए हैं। इसका प्रारूप अगले एक सप्ताह में तैयार हो जाने की उम्मीद है।

इसके बाद बोर्ड बजट के अंतिम प्रारूप पर मोहर लगायेगा, जिससे कि बजट में आम आदमी की हिस्सेदारी सुनिश्चित हो सके। 

10 से 15 फीसदी अधिक का हो सकता है बजट
 
नगर पर्षद ने वर्ष 2016-17 में तकरीबन 100 करोड़ का बजट स्वीकृत किया था। इस बार तकरीबन 10 से 15 फीसदी अधिक का बजट हो सकता है। इसमें आय-व्यय का अलग-अलग ब्योरा रहेगा।
 
तैयार हो रहा नप का बजट
 
नगर पर्षद का बजट तैयार किया जा रहा है, इसका प्रारूप तैयार हो जाने पर लोगों के लिए प्रदर्शित किए जाएंगे। इस पर वार्ड पार्षदों को लेकर गठित बोर्ड अंतिम रूप देगा।

आरके लाल, कार्यपालक पदाधिकारी, नगर पर्षद, सीवान
इन्द्रेश गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned