जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में भाजपा को मिल रही अपनों से चुनौती,  दो अन्य बीजेपी नेता ने भी भरा पर्चा

सपा नेता अनिल यादव के खिलाफ लाया गया था अविश्वास प्रस्ताव

By: Sunil Yadav

Published: 13 Mar 2018, 09:58 AM IST

सोनभद्र. जिले के कलेक्ट्रेट में सोमवार को जिला पंचायत अध्यक्ष के उपचुनाव के लिए पर्चा भरा गया। जिसमें तीन उम्मीदवारों द्वारा नामांकन-पत्र दाखिल किया गया। नामांकन-पत्रों की कार्यवाही जिला निर्वाचन अधिकारी व जिलाधिकारी प्रमोद कुमार उपाध्याय ने अपनी मौजूदगी में निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण तरीके से सम्पन्न करायी। जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए जिले के ही उम्मीदवार अमरेश कुमार ने दो सेटों में, विनोद कुमार मौर्य ने एक सेट में व सुभाष पाल ने दो सेटों में अपना-अपना नामांकन पत्र दाखिल किया, जो जॉच के दौरान नामांकन-पत्र सही पाया गया।

यह भी पढ़ें- दंगल गर्ल गीता से प्रभावित हुईं ये आदिवासी लड़कियां, देश के लिए तीरंदाजी में बहा रहीं पसीना

जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी प्रमोद कुमार उपाध्याय ने बताया कि जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए दाखिल किये गये नामांकन-पत्रों की वापसी 15 मार्च को उम्मीदवारों द्वारा वापस ली जा सकेगी।

गौर करने वाली बात है कि भाजपा में ही तीन फाड़ हो गया, भाजपा ने अमरेश पटेल को अपना जिला पंचायत अध्यक्ष का प्रत्यासी बनाया तो पार्टी के ही दो अन्य सदस्यों विनोद मौर्य और सुभाष पाल ने भी अपना-अपना दावा ठोक सनसनी मचा दी। अब कुर्सी की लड़ाई बेहद दिलचस्प हो गयी है।

यह भी पढ़ें- पड़ोसी का मोबाइल लेकर घर आई थी किशोरी, परिजनों ने लगाई डांट तो उठाया यह कदम

आप को बता दे कि प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद से लगातार अविश्वास प्रस्ताव का सिलसिला जारी है। सोनभद्र जिला पंचायत अध्यक्ष अनिल यादव के खिलाफ भी बीते माह पंचायत सदस्यों ने अविश्वास प्रस्ताव लाया था। जिसके बाद सपा नेता अनिल यादव की कुर्सी चली गई थी। इस मामले में पंचायत सदस्यों का कहना था कि पंचायत अध्यक्ष सदस्यों से ताल-मेल स्थापित नहीं कर रहे थे जिस कारण अविस्वास लाया गया। बहरहाल चुनाव को लेकर 19 मार्च को वोटिंग होनी है।

यह भी पढ़ें- सपा, बसपा कार्यकर्ताओं ने मंत्री का पुतला फूंक किया प्रदर्शन

BJP
Sunil Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned