सोनभद्र के उम्भा गांव में हुए नरसंहार मामले में हुआ नया खुलासा, ग्राम समाज की जमीन को...

सोनभद्र के उम्भा गांव में हुए नरसंहार मामले में हुआ नया खुलासा, ग्राम समाज की जमीन को...
सोनभद्र हिंसा

Akhilesh Kumar Tripathi | Updated: 23 Jul 2019, 10:06:32 PM (IST) Sonbhadra, Sonbhadra, Uttar Pradesh, India

जिलाधिकारी ने बताया की सोनभद्र जिला बनने से पहले 1955 में यह मिर्जापुर जिले का भाग था, रिकॉर्ड रूम में...

सोनभद्र. उम्भा गांव में हुए नरसंहार मामले में नई जानकारी सामने आई है, जिस जमीन को लेकर विवाद है, वह जमीन पहले आदर्श को ऑपरेटिव सोसाइटी से पूर्व आईएएस की पत्नी आशा मिश्रा और विनीता शर्मा ने खरीदी थी और और बाद में इसे ग्राम प्रधान यज्ञ दत्त को भेज दिया था।

 

यह भी पढ़ें:

सोनभद्र के उम्भा गांव पहुंचे भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर, दिया यह बड़ा बयान

 

बताया जाता है कि वर्ष 1955 में इस जमीन को जो कि ग्राम समाज की थी गलत तरीके से आदर्श को ऑपरेटिव सोसाइटी को ट्रांसफर की गई थी। मंगलवार को जब इस मामले में मुख्यमंत्री ने जांच बैठा दी है और सारी पत्रावली या राजस्व परिषद लखनऊ तलब की गई हैं । इस बीच यह जानकारी में आया है कि ग्राम समाज की जमीन के आदर्श को ऑपरेटिव सोसाइटी को ट्रांसफर किए जाने की पत्रावली गायब हो चुकी है। जिलाधिकारी ने बताया की सोनभद्र जिला बनने से पहले 1955 में यह मिर्जापुर जिले का भाग था , यह पत्रावली मिर्जापुर से जिले के रिकॉर्ड रूम में नहीं आई और जानकारी करने पर यह पता चला कि ये पत्रावली मिर्जापुर के रिकॉर्ड रूम में भी नहीं है।

 

BY- SANTOSH JAISWAL

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned