आर्थिक तंगी के कारण युवक ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

आर्थिक तंगी के कारण युवक ने फांसी लगाकर की खुदकुशी
Suicide

खनन बन्द होने से कई परिवारों के सामने रोजी- रोटी की समस्या

सोनभद्र. जिले में खनन बन्द होने से कई परिवारों के सामने आर्थिक समस्या उत्पन्न हो गई है। रोजी- रोटी के लिए कई परिवार तरस रहे हैं, इनके पास कोई सरकारी मदद भी नहीं पहुंच पा रही है। मंगलवार को आर्थिक तंगी से गुजर रहे रामलाल अगरिया ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।


चोपन के जहवारीदाड का रहने वाला रामलाल अगरीया पुत्र गौरीलाल अगरिया का अक्सर पत्नी के साथ खर्चे को लेकर तकरार होता था। राम लाल पत्नी के डांट फटकार से इतना आहत हुआ कि पहले पत्नी पानपत्ती का गला दबा दिया और उसे मृत समझ रस्सी के सहारे मकान में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

यह भी पढ़ें:
योगी जी बजट तो पारित हो गया लेकिन देवरिया उदास है


घटना की जानकारी होने पर पत्नी को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया, जहां उसकी स्थिति नाजुक बनी हुयी है। बताया जाता है कि मृतक खनन क्षेत्र में मजदूरी कर अपने परिवार की जीविका चलता था, इधर खनन बन्द होने से मृतक बेरोजगार हो गया था। जिससे जीविकापालन में समस्या आने लगी, यहां तक कि परिवार भूखमरी के कगार पर आ गया, जिस कारण दोनों के बीच अक्सर तकरार होने लगा। बता दें कि भुखमरी के कगार पर आने की स्थिति की जानकारी होने पर मृतक रामलाल के बड़े भाई रामबीर अगरिया ने उसकी पत्नी और सात बच्चों को अपने घर चोपन थाना क्षेत्र के पटवध में बुला लिया था।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned