scriptमुरैना की बेटी का कमाल: बेटा जीत न सका पदक, मां ने तलवारबाजी में जीता कांस्य पदक | Patrika News
खास खबर

मुरैना की बेटी का कमाल: बेटा जीत न सका पदक, मां ने तलवारबाजी में जीता कांस्य पदक

– तलवारबाजी में म प्र की पहली महिला खिलाड़ी बनी सीमा
– पति की हौसलाअफजाई से पाया राष्ट्रीय प्रतियोगिता में तीसरा स्थान

मोरेनाJun 20, 2024 / 04:09 pm

Ashok Sharma

मुरैना. फेंसिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया एवं ओडिशा फेंसिंग एसोसिएशन द्वारा आयोजित 12 वी मिनी, 6 वी चाइल्ड कप एवं प्रथम मास्टर्स (40 वर्ष से अधिक) राष्ट्रीय तलवारबाजी प्रतियोगिता 2024 का आयोजन कटक ओडिशा में 14 जून से 18 जून 2024 तक किया गया। इस मैंच में मां सीमा शर्मा बेटे को पाॢटसिपेट कराने लेकर गई थी। वहां बेटा बाजी नहीं मार सका लेकिन मां सीमा शर्मा ने राष्ट्रीय प्रतियोगिता में तीसरा स्थान पाकर कास्य पदक जीता। सीमा पत्नी संजीव कुमार शर्मा मूलतह बिलगांव जनपद जौरा के निवासी है, वर्तमान में अल्कापुरी ग्वालियर में निवासरत हैं।
यहां बता दें कि मध्य प्रदेश से ग्वालियर शहर से 12 वी मिनी प्रतियोगिता में सेवर बॉयस में कौशतभ शर्मा ने भाग लिया। इसके साथ उसके पिता संजीव शर्मा व मां सीमा शर्मा भी गई थीं। प्रथम मास्टर्स राष्ट्रीय प्रतियोगिता में कौशतभ शर्मा के पिता संजीव कुमार शर्मा ने फॉयल पुरुष और मां सीमा शर्मा ने एप्पी महिला कैटगिरी में भाग लिया।
सीमा शर्मा ने लीग मैचेस क्वालीफाई कर नॉकआउट में अपनी जगह बनाई उसके बाद फाइनल मुकाबले में कर्नाटक की महिला खिलाड़ी से 15-09 से तृतीय स्थान प्राप्त किया। राष्ट्रीय प्रतियोगिता में पदक जीतकर सीमा शर्मा ग्वालियर और पूरे मध्य प्रदेश से तलवारबाजी खेल में पहली महिला खिलाड़ी बनी।
आत्मविश्वास से जीता जा सकता है हर कोई लक्ष्य
तलवारबाजी में परिवार सहित प्रदेश का मान बढ़ाने वाली सीमा शर्मा कहती हैं कि कोई जीत हांसिल करने के लिए आत्मविश्वास होना बहुत जरूरी है। यहां बता दें कि सीमा शर्मा पुरानी हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी मुरैना निवासी डॉ. एस एन शर्मा की पुत्री हैं। जौरा बिलगांव निवासी रामगोपाल शास्त्री की पौत्रबधु और संजीव पुत्र ऋषिकेश शर्मा की पत्नी हैं। वर्तमान में ग्वालियर अल्कापुरी में निवासरत हैं।
विजय पर इन्होंने जताया हर्ष
फेंसिंग ग्वालियर के संरक्षक देवेंद्र प्रताप सिंह तोमर, अध्यक्ष गिरीश मिश्रा, संचालक पंकज शर्मा, सचिव अमित तोमर ने पदक विजेता खिलाड़ी सीमा शर्मा की सहराना की और 44 वर्षीय संजीव शर्मा को भी राष्ट्रीय प्रतियोगिता में सहभागिता के लिए बधाई दी और कोच प्रशांत गुप्ता को उनकी मेहनत और आगे भी मध्य प्रदेश के लिए और भी पदक लाने के लिए शुभकामनाएं दी।

Hindi News/ Special / मुरैना की बेटी का कमाल: बेटा जीत न सका पदक, मां ने तलवारबाजी में जीता कांस्य पदक

ट्रेंडिंग वीडियो