scriptभारत रंग महोत्सव में मणिपुर के कलाकारों ने मन मोहा, देखें झलकियां |Artists of Manipur enthralled in Bharat Rang Mahotsav, see glimpses | Patrika News
खास खबर

भारत रंग महोत्सव में मणिपुर के कलाकारों ने मन मोहा, देखें झलकियां

5 Photos
3 weeks ago
1/5

नाटक में एक रईस आदमी एक पुराने महल में अपने एक रात की नफरत के अनुभव बताता है। जब वह टैक्स वसूल करने एक दूरदराज के इलाके में गया, सफेद संगमरमर का यह महल बहुत ही खूबसूरत लग रहा था, इसमें जाने के लिए एक सौ पचास सीढिय़ां चढ़नी पड़ती थीं।

2/5

नाटक में मानवीय संबंधों में पुरुष वर्चस्व की प्रतिक्रिया दर्शाई गई, जिसके परिणामस्वरूप महिलाओं का शोषण होता है। यह आत्मा की मुक्ति के दिखावे और वास्तविकता के बीच का अंतर भी उजागर करता है। इस नाटक में दमन से बाहर निकलने का रास्ता दिखाने की कोशिश की गई । वर्चस्व की प्रतिक्रिया दर्शाई गई, जिसके परिणामस्वरूप महिलाओं का शोषण होता है। यह आत्मा की मुक्ति के दिखावे और वास्तविकता के बीच का अंतर भी उजागर करता है। इस नाटक में दमन से बाहर निकलने का रास्ता दिखाने की कोशिश की गई ।

3/5

नाटक में कलाकारों ने मणिपुरी लोक संस्कृति भी दिखाने का प्रयास किया है। लाइव म्यूजिक नाटक का महत्वपूर्ण हिस्सा रहा। नाटक में कलाकारों का बोल्ड मेकअप सराहनीय रहा। जिस कलाकार को जैसी मुद्रा में दिखाना था, उसी के अनुसार मेकअप नजर आया। वहीं नाटक में कलाकारों के कॉस्टयूम में गले, हाथ व पांव सभी जगह रस्सी बंधी हुई दिखाई दी। जो उस समय अंग्रेजों की हुकूमत में समाज की बंदिशों में रहकर जीवन व्यतीत करने वाले महिलाओं और पुरुषों की स्थिति बयां कर रही है।

4/5

क्षुधित पाषाण नाटक में पहली बार मणिपुर के कलाकारों की नाटक की प्रस्तुति में भाषा को पीछे छोड़ते हुए भावों के माध्यम से क्षुधित पाषाण का जीवंत रूप प्रस्तुत किया गया। करीब 21 लोगों ने मिलकर क्षु धित पाषाण नाटक का स्टेज पर चित्रांकन किया गया। इस नाटक में 4 वर्ष से लेकर 65 वर्ष तक के कलाकारों ने एक ही एनर्जी में दर्शकों को रोमांचित कर दिया। वहीं करीब 3 पीढि़याें ने एक साथ एक मंच पर प्रस्तुति दी।

5/5

नाटक के अदाकारों में सोमरजीत, प्रेमकुमार शर्मा, जयविद्या, महेश, ओकेनश्वोर, ऋषिकांता, बाबॉयसाना, अमित, चिंगखिलाक्पा, बुंगो, नाओबा, सोमोरेंद्रो, बेबिता, पियारी, रोशिमा, जेनिफर, बिनीता, अनिता व रूबी शामिल थे। फोटो: मनोज सेन।

अगली गैलरी
मरुशहर पहुंची शाही रेल, मुस्कुराए मेहमान
next
loader
Copyright © 2024 Patrika Group. All Rights Reserved.