नगर पालिका से जुड़ सकते हैं, 8 किमी दायरे के ये गांव, पढि़ए पूरी खबर

Sunil Vandewar

Publish: Feb, 19 2019 01:05:35 PM (IST)

स्‍पेशल

सिवनी. नगरपालिका परिषद का साधारण सम्मिलन 20 फरवरी को नगर पालिका में रखा गया है। जिसमें 26 प्रस्ताव पर विचार विमर्श होना है। साधारण सम्मिलन के पूर्व जिला कांग्रेस कमेटी के द्वारा निर्धारित बिंदुओं पर चर्चा के लिए कांग्रेस पार्षदों की बैठक जिला कांग्रेस कार्यालय में रखी गई।
बैठक में कांग्रेस जिला अध्यक्ष अध्यक्ष राजकुमार खुराना ने कांग्रेस पार्षद दल के सदस्यों से कहा कि इन विषयों में सबसे महत्वपूर्ण विषय नगरीय निकाय की सीमा वृद्धि तथा वार्डों की संख्या का अवधारण है एवं माचागोरा बांध का पानी बबरिया डेम में लाया जाना है। कहा कि लगभग 20 वर्ष पूर्व सिवनी नगरपालिका के वार्डों का परिसीमन हुआ था जिसमें 33 वार्डो के 24 वार्ड कर दिए गए थे, इस परिसीमन में न तो क्षेत्रफल का ध्यान रखा और न ही मतदाताओं की संख्या का ध्यान रखा गया। किसी वार्ड में 18०० मतदाता हंै और किसी वार्ड में ०7 हजार मतदाता हंै।
तो बनेगा सिवनी नगर निगम -
जिला कांग्रेस अध्यक्ष खुराना ने पार्षदों को बताया कि विकास कार्यों के दृष्टिकोण से नगरीय सीमा में वृद्धि एवं वार्डों का परिसीमन आवश्यक है, यदि हम सिवनी से लगे लगभग ०8 किमी के ग्रामों को नगर पालिका परिषद में जोड़ते है तो आने वाले समय में सिवनी को नगर निगम बनाने में आसानी होगी एवं विकास कार्यो के लिए बजट भी ज्यादा प्राप्त होगा।
नगर पालिका क्षेत्र से सटे गांव-
शहर से सटे गांव में खैरी, मरझोर, बम्होड़ी, लखनवाड़ा, सीलादेही, बोरदई, छतरपुर, जनता नगर, आमाझिरिया, चूनाभट्टी-पलारी, डुंगरिया, कोहका, मानेगांव, नगझर, कंडीपार, बींझावाड़ा, लूघरवाड़ा, ढेंकी, तिघरा, परतापुर, कोनियापार, फरेदा, बिठली जैसे गांव नगर पालिका क्षेत्र से ०८ किमी के दायरे में हैं। नगर पालिका क्षेत्र के परिसीमन व विस्तार होने की स्थिति में इन गांव को जोड़ा जा सकता है।
कमलनाथ भी चाहते हैं यही -
खुराना ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ की भी यही मंशा है जिस तरह छिन्दवाड़ा को नगर निगम बनाया गया। उसी तरह सिवनी का भी विकास होना चाहिए, यदि हम यह सोचकर नगर पालिका सीमा में वृद्धि नहीं करते, इन क्षेत्रों से अधिक बार भाजपा जीती है तो यह नगर विकास में बाधक संकुचित मानसिकता होगी। आरोप लगाया कि भाजपा शासित नगर पालिका अध्यक्षों ने अभी तक यही किया है।
सत्ता, संगठन की खींचतान से रुका विकास -
कहा कि सिवनी के विकास को लेकर संवेदनशील नही रहे, सत्ता और संगठन की आपसी खींचतान में सिवनी के विकास को अवरूध कर दिए हैं, अब समय आ गया है कि हम सिवनी के लिए कुछ ऐसा प्रयास करें कि हमारी आने वाली पीढ़ी को लाभ मिले। नगझर की ओर से माचागोरा डेम का पानी बबरिया तालाब में गिराए जाने की बात भी पार्षदों से कहा, ताकि मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा स्वीकृत नवीन जलार्वधन योजना से सिवनी नगरवासियों को आने वाले कई वर्षों तक पानी की किल्लत से नही जुझना पड़ेगा। खुराना ने कहा कि नगर विकास में जो भी विषय आते हैं दलगत भावना से ऊपर उठकर नगर विकास में इनका समर्थन करना है। बैठक में नगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष इमरान पटेल, पूर्व नगरपालिका उपाध्यक्ष राजिक अकील, पार्शद दल नेता शफीक खान, पार्षद संतोष पंजवानी, सुरेन्द्र करोसिया, संजीव उईके मोनू, शबनम खान, शीरी अफरोज, इब्राहिम, सतीश चिन्टोल, रंजीत यादव, नियाज अली अन्य उपस्थित रहे।


००००००००००००००००००

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned