scriptHuman Hair Trade in India. | चीन में तस्करी से भारत में इंसानी बालों का व्यापार हो रहा चौपट | Patrika News

चीन में तस्करी से भारत में इंसानी बालों का व्यापार हो रहा चौपट

locationजयपुरPublished: Jul 13, 2023 11:54:42 am

Submitted by:

Kiran Kaur

चीनी व्यापारी आयात मूल्य पर 30 प्रतिशत शुल्क और करों के भुगतान से बचने के लिए बालों की तस्करी का विकल्प चुनते हैं।

चीन में तस्करी से भारत में इंसानी बालों का व्यापार हो रहा चौपट
चीन में तस्करी से भारत में इंसानी बालों का व्यापार हो रहा चौपट
नई दिल्ली। चीन, अमरीका और यूरोपीय देश भारतीय बालों के सबसे बड़े खरीदार हैं। ये देश इन बालों से स्थानीय, अंतरराष्ट्रीय बाजारों के लिए विग और अन्य उत्पाद बनाते हैं। लेकिन बांगलादेश, म्यांमार के रास्ते चीन में बड़े पैमाने पर तस्करी के कारण भारत का ह्यूमन हेयर ट्रेड खतरे में है और मुनाफा भी घट रहा है। पहले चीनी कंपनियां भारतीय व्यापारियों से वैध तरीके से प्रति किलो 200 डॉलर के हिसाब से बाल खरीदती थीं। लेकिन वे अब स्थानीय एजेंटों को नियुक्त कर रही हैं, जो 60-70 डॉलर प्रति किलो की दर से हेयर बॉल्स खरीदते हैं, जिनकी बाद में बांगलादेश में तस्करी होती है। इससे स्थानीय उद्योग को नुकसान होने के साथ-साथ भारत बड़ी मात्रा में टैक्स से होने वाली आय खो रहा है।

भारतीय अकुशल श्रमिकों की आय पर असर:
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.