scriptएक ही दिन में मौसम ने बदले तीन रंग, उमस-आंधी और बूंदाबांदी | Patrika News
खास खबर

एक ही दिन में मौसम ने बदले तीन रंग, उमस-आंधी और बूंदाबांदी

आकाश में बादलों का जमघट लगा हुआ था और तेज बरसात होने की उम्मीद थी। उमस भी बनी हुई थी, लेकिन हल्की बूंदाबांदी ही होकर रह गई। यह भी पूरे शहर में न होकर कुछ इलाकों में ही हुई थी।

बीकानेरJun 27, 2024 / 02:02 am

Brijesh Singh

पिछले कुछ दिनों से लगातार गर्मी से तंग कर रहा मौसम बुधवार को तीन रंग में नजर आया। दिन की शुरुआत ही बूंदाबांदी से हुई। दोपहर में उमस रही, तो शाम को आंधी चलने से हल्की राहत मिली। गौरतलब है कि पिछले कई दिनों से हीटवेव चलने एवं तेज धूप निकलने से लोग गर्मी से उकता गए थे। बारिश के लोग ऊपर देख कर प्रार्थना तक करने लगे। प्रार्थनाओं का कितना असर पड़ा, यह तो नहीं कहा जा सकता, लेकिन बुधवार को मौसम ने एक ही दिन में तीन रंग जरूर दिखा दिए। इसका संकेत मंगलवार देर रात से मिलने लगा था। हवा अपेक्षाकृत कम गर्म महसूस हो रही थी। बादल भी छाए हुए थे। हालांकि, बारिश की कोई उम्मीद नहीं दिख रही थी।
बुधवार तड़के करीब साढ़े चार बजे छतों पर सो रहे लोगों को बूंदाबांदी ने नींद में से उठाया। आकाश में बादलों का जमघट लगा हुआ था और तेज बरसात होने की उम्मीद थी। उमस भी बनी हुई थी, लेकिन हल्की बूंदाबांदी ही होकर रह गई। यह भी पूरे शहर में न होकर कुछ इलाकों में ही हुई थी। बूंदाबांदी होने से उमस और बढ़ गई थी और हवा भी बंद हो गई। इससे पसीने से शरीर तर-बतर होने लगा था। बादल होने से धूप भी देरी से निकली और मौसम अनबूझा सा लग रहा था। दोपहर के समय आकाश में छितराए बादलोें की वजह से हल्की धूप निकली थी, लेकिन उमस से हालत पस्त हो रही थी। मौसम में धूल का गुबार भी दिख रहा था।
शाम को आंधी

शाम करीब साढ़े पांच बजे अचानक तेज हवा चलने लगी और थाेड़ी देर में आंधी शुरू हो गई थी, जो कई देर तक चली। इससे गर्मी से लोगों को कुछ राहत तो मिली, लेकिन कई इलाकों में बिजली कट हो जाने से लोगों को धूल के कणों के बीच घरों के बाहर निकल कर बैठना पड़ा, क्योंकि अंदर भीषण उमस हो चुकी थी। रेत उड़ने से वाहन चालकों को तकलीफों का सामना करना पड़ा।
पारे का रहा यह हाल

बुधवार को अधिकतम तापमान 43 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि मंगलवार को 43.3 डिग्री सेल्सियस था। यही स्थिति न्यूनतम तापमान की भी रही। एक दिन पहले न्यूनतम तापमान 32.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। वहीं बुधवार को 33.3 डिग्री सेल्सियस रहा। जिला मुख्यालय से करीब 70 किमी दूर श्रीडूंगरगढ़ में दोपहर में बादलों ने डेरा डाल दिया था और शाम को बरसात से मौसम खुशगवार हो गया। इससे लोगों को गर्मी से राहत मिली।

Hindi News/ Special / एक ही दिन में मौसम ने बदले तीन रंग, उमस-आंधी और बूंदाबांदी

ट्रेंडिंग वीडियो