scriptMonsoon arrived early for the fourth time in 12 years, Rajasthan | Weather Update: 12 साल में चौथी बार जल्दी आया मानसून | Patrika News

Weather Update: 12 साल में चौथी बार जल्दी आया मानसून

भारत की अर्थव्यवस्था की रीढ़ माने जाने वाले दक्षिण पश्चिमी मानसून ने केरल में दस्तक दे दी है। मानसून 12 साल में चौथी बार निर्धारित तारीख (1 जून) से पहले केरल पहुंचा है। इससे पहले इसका आगमन 2010 में 31 मई, 2017 में 30 मई और 2018 में 29 मई को हुआ था। आईएमडी के अनुसार मानसून के आगे बढ़ने की सभी परिस्थितियां अनुकूल हैं और कर्नाटक-महाराष्ट्र को भिगोते हुए मानसून 25 जून तक जयपुर में दस्तक दे सकता है।

जयपुर

Updated: May 30, 2022 11:03:07 am

केरल में रविवार को मानसून की दस्तक के साथ ही देश में मानसून का प्रवेश हो गया है। आम तौर पर 1 जून को मानसून केरल में प्रवेश करता है लेकिन इस बार तीन दिन पहले प्रवेश किया है। राजस्थान में भी मानसून 25 जून तक दक्षिणी जिलों से प्रवेश कर सकता है। प्रवेश के बाद पूरे प्रदेश में मानसून को छाने में एक से दो सप्ताह का समय लग सकता है। पिछले साल मानसून का केरल में प्रवेश 3 जून को हुआ था। वहीं, यह राजस्थान में 18 जून को पहुंचा था।
mansoon.jpg
राजस्थान में इन तारीखों को आते रहा है मानसून

पिछले दस वर्षों की बात करें तो केरल में साल 2017 व 2018 में ही मई में मानसून ने प्रवेश किया था। मगर राजस्थान तक पहुंचने में देरी हुई। राजस्थान में साल 2017 में 27 जून व साल 2018 में 26 जून को प्रवेश किया था। साल 2020 से पहले तक राजस्थान आने की औसत तारीख 15 जून निर्धारित थी। मौसम विभाग ने वर्ष 2020 में इसे बदलकर 25 जून कर दिया। वहीं, मानसून विदाई की तारीख भी सात दिन आगे बढ़ाई गई।
अगले चार पांच दिन लू से राहत

मौसम विभाग के अनुसार रविवार को प्रदेश के अधिकांश जिलों में तापमान में वृद्धि हुई। हालांकि इस दौरान हीटवेव नहीं चली और धूलभरी आंधी से भी राहत रही। प्रदेश में सर्वाधिक तापमान श्रीगंगानगर में 45 डिग्री दर्ज किया गया। जयपुर में भी तापमान 42 डिग्री पर पहुंच गया। प्रदेश के छह स्थानों पर अधिकतम तापमान 40 डिग्री से नीचे रहा। मौसम विभाग के अनुसार राजस्थान में अगले चार-पांच दिनों में लू नहीं चलेगी और लोगों को गर्मी से थोड़ी राहत रहेगी। भरतपुर संभाग के जिलों में सोमवार को कुछ स्थानों पर हल्की बारिश होने की संभावना है। वहीं, बीकानेर और जोधपुर संभाग के जिलों में अगले तीन दिन तक धूलभरी तेज हवा चलेगी। वहीं झारखंड, छत्तीसगढ़, बिहार, ओडिशा, मध्य महाराष्ट्र, विदर्भ, तेलंगाना, तमिलनाडु, पुडुचेरी और लक्ष्यद्वीप में हवाओं के साथ बारिश होने का अनुमान है।
12 साल में चौथी बार आया जल्दी

पिछले कुछ सालों का इतिहास देखें तो मानसून 12 साल में चौथी बार सामान्यतया तय तारीख (1 जून) से पहले केरल पहुंचा है। इससे पहले इसका आगमन 2010 में 31 मई, 2017 में 30 मई और 2018 में 29 मई को हुआ था।
अर्थव्यवस्था की जीवन रेखा है दक्षिण-पश्चिम मानसून, कई राज्यों को करेगा कवर

आईएमडी से मौसम वैज्ञानिक आर.के .जेनामणि ने बताया कि फिलहाल मानसून लक्षद्वीप और केरल के हिस्सों में आगे बढ़ेगा। कर्नाटक, तमिलनाडु, बंगाल की खाड़ी और पूर्वोत्तर राज्यों के अधिक से अधिक हिस्सों को भी कवर करेगा।
बता दें, दक्षिण-पश्चिम मानसून को भारत की कृषि आधारित अर्थव्यवस्था की जीवन रेखा माना जाता है। विशेषज्ञों का कहना है कि असामान्य तरीके से मानसून 16 मई को ही अंडमान-निकोबार में पहुंच गया था। चक्रवात असनी के कारण इसके तेजी से आगे बढ़ने की संभावना थी। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक मानसून के मध्य अरब सागर के अधिकांश क्षेत्र को कवर करने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं। आने वाले दिनों में मानसून केरल के साथ-साथ कर्नाटक और महाराष्ट्र की ओर भी बढ़ेगा। केरल में अगले तीन दिन भारी बारिश की संभावना है। कर्नाटक-महाराष्ट्र में भी तेज बारिश के आसार हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

'हर घर तिरंगा' अभियान में शामिल हुई PM नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन, बच्‍चों के संग फहराया राष्‍ट्रीय ध्‍वज7,500 स्टूडेंट्स ने मिलकर बनाया सबसे बड़ा ह्यूमन फ्लैग, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नामबिहारः सत्ता गंवाते ही NDA के 3 सांसद पाला बदलने को तैयार, महागठबंधन में शामिल होने की चल रही चर्चा'फ्री रेवड़ी ' कल्चर व स्कूल के मुद्दे पर संबित्र पात्रा ने AAP को घेरा, कहा- 701 स्कूलों में प्रिंसिपल नहीं, 745 स्कूलों में नहीं पढ़ाया जाता विज्ञानPM मोदी ने कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाले दल से मुलाकात की, कहा- विजेताओं से मिलकर हो रहा गर्वप्रियंका के बाद अब सोनिया गांधी भी दोबारा हुईं कोरोना पॉजिटिव, तेजस्वी यादव ने कल ही की थी मुलाकातजम्मू कश्मीर में टेरर लिंक मामले में बिट्टा कराटे की पत्नी समेत चार सरकारी कर्मचारी बर्खास्त2009 में UPSC किया टॉप, 2019 में राजनीति के लिए नौकरी छोड़ी, अब 2022 में फिर कैसे IAS बने शाह फैसल?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.