बढिया शहद के लिए यहां मधुमक्ख्यिां पाल रहे हैं

Vikas Mathur

Publish: Jan, 09 2019 06:19:12 PM (IST)

स्‍पेशल

इस क्षेत्र में हरियाली अधिक होने से वर्षभर फूलों की उपलब्धता रहती है। कृषि विज्ञान केंद्र की ओर से इसके लिए भरपूर प्रयास किए जा रहे हैं। इससे कांठल क्षेत्र में मधुमक्खी पालन के लिए अपार संभावनाएं बनती जा रही हैं। जिससे शहद की भी बढिया क्वालिटी उपलब्ध होती है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned