PM मोदी करेंगे उद्घाटन Tamilnadu को कुछ और सौगातें


चेन्नई मेट्रो के दूसरे चरण की शुरुआत और अर्जुन टैंक को यहां से राष्ट्र को समर्पित करने के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तेल और गैस की परियोजनाओं से राज्य को लाभान्वित करेंगे।

By: P S Kumar

Updated: 16 Feb 2021, 04:04 PM IST

चेन्नई. विधानसभा चुनाव के लिए तैयार तमिलनाडु को केंद्र सरकार की ओर से कुछ और सौगातें मिली हैं। भाजपा सरकार इन नजरानों से तमिलनाडु और स्वयं की प्रगति की राह तलाश रही है। चेन्नई मेट्रो के दूसरे चरण की शुरुआत और अर्जुन टैंक को यहां से राष्ट्र को समर्पित करने के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तेल और गैस की परियोजनाओं से राज्य को लाभान्वित करेंगे। बहरहाल, तमिलनाडु के कावेरी बेसिन जिलों में तेल व गैस की खोज का विरोध हो रहा है। संभवत: यही वजह है कि भौतिक रूप से उपस्थित होने के बजाय पीएम ने वर्चुअल माध्यम से इन परियोजनाओं के समर्पण और उद्घाटन की युक्ति को अपनाया है।


तयशुदा कार्यक्रम के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र 17 फरवरी शाम साढ़े चार बजे वीडियो कांफे्रंसिंग के माध्यम से तमिलनाडु में तेल और गैस क्षेत्र की प्रमुख परियोजनाओं का उद्घाटन व आधारशिला रखेंगे। इस मौके पर राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित और मुख्यमंत्री एडपाड़ी के. पलनीस्वामी के अलावा पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी उपस्थित रहेंगे।


गैस पाइप लाइन का समर्पण
एण्णूर-तिरुवल्लूर-बेंगलूरु-पुदुचेरी-नागपट्टिनम से मदुरै होते हुए तुत्तुकुड़ी तक की प्राकृतिक गैस पाइपलाइन कार्यक्रम के तहत ७०० करोड़ के खर्च से बने रामनाथपुरम-तानुकुड़ी खंड (१४३ किमी) को राष्ट्र को समर्पित किया जाएगा।


चेन्नई में गैसोलीन डीसल्फराइजेशन प्लांट
चेन्नई के मनली स्थित सीपीसीएल में गैसोलीन डीसल्फराइजेशन इकाई को लगभग 500 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है।


नागपट्टिनम में रिफाइनरी
आईओसीएल और सीपीसीएल के संयुक्त उद्यम से 31,500 करोड़ रुपये की लागत से नागपट्टिनम में स्थापित की जाने वाली कावेरी बेसिन रिफाइनरी की क्षमता 90 लाख मीट्रिक टन प्रति वर्ष होगी।

P S Kumar Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned