राशन डीलरों को पहुंची दाल की बोरियों में कम निकला माल

- डीएसओ ने इंस्पेक्टरों को भेज करवाई तुलवाई, अनियमितताओं की जांच की मांग, जिला कलक्टर को सौंपा ज्ञापन

By: Mukesh

Updated: 21 May 2020, 11:50 PM IST

कोटा. राज्य सरकार की ओर से रसद विभाग के माध्यम से राशन डीलरों को भेजी गई दाल के कट्टों में दाल कम पाई जाने से राशन डीलरों व कांगे्रस नेताओं ने जिला कलक्टर को शिकायत कर मामले की जांच कर कार्रवाई की मांग की।

शहर के वार्ड 6 सेक्टर छावनी में 16 मई को खाद्य विभाग द्वरा राशन वितरण में दाल की सप्लाई के लिए एक गाड़ी भेजी गई। जब राशन डीलरों ने दाल उठवाई, तो हर बोरी में करीब 500 ग्राम का अंतर पाया गया। इस घटना को क्षेत्र के स्थानीय निवासी और देहात कांग्रेस के सचिव अंशु श्रृंगी और कांग्रेस के पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष देवेश तिवारी ने जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर मामले की जांच कर कार्रवाई की मांग की।कांगे्रस पदाधिकारियों ने मामले की जानकारी जिला रसद अधिकारी को दी। इस पर उन्होंने मामले की जांच के लिए इंस्पेक्टर को भेजने की बात कही और जांच के लिए रसद विभाग के इंस्पेक्टर कमल मीना और आनंद मौके पर आए और मौके पर दाल तुलवाई, तो हर बोरी में करीब 500 से 600 ग्राम कम दाल मिली।राशन डीलरों का कहना है कि प्रशासन पूरे वाउचर पर हस्ताक्षर करवा रहा है, जबकि डीलरों को ही दाल कम मिली है। उन्होंने मौके पर आए इंस्पेक्टर को शिकायत भी की उन्हें कई माह से राशन डीलर का कमीशन भी नहीं दिया जा रहा है। और जनता की गालियां भी सुननी पड़ रही है। डीलर हीरा सिंह, मुकेश, विष्णु गुर्जर ने बताया कि गाड़ी वाला हर बोरी को उतारने का 4 रुपए प्रति बोरी भी डीलर से मांगता है और रुपए नहीं देने पर माल नही उतारता। एेसे में डीलर को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned