6 डकैत, 7 जिले और 24 से ज्यादा वारदातें... यूं धरे गए खूंखार अपराधी

6 डकैत, 7 जिले और 24 से ज्यादा वारदातें... यूं धरे गए खूंखार अपराधी

| Updated: 14 Sep 2018, 02:32:37 PM (IST) स्‍पेशल

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

अजमेर. जिला पुलिस की साइक्लोन और क्रिश्चियन गंज थाना पुलिस ने पंचशील नगर क्षेत्र में डकैती का षडय़ंत्ररच रहे छह बदमाशों को दबोचने में कामयाबी हासिल की है। गिरोह ने अजमेर, भीलवाड़ा, जयपुर, राजमन्द, सीकर, चितौडगढ़़, पाली जिले में करीब 2 दर्जन से ज्यादा लूट, चोरी, नकबजनी, वाहन चोरी की वारदातें अंजाम देना कबूला है। पुलिस ने उनसे देशी कट्टा और कारतूस समेत अन्य हथियार बरामद किए हैं।

पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह ने बताया कि शहर में चोरी, वाहन चोरी, नकबजनी व लूट की वारदातों पर अंकुश लगाने के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हर्ष रत्नू, सीओ नोर्थ जिनेन्द्र कुमार के निर्देशन में क्रिश्चियन गंज थानाप्रभारी लिखमाराम व साइक्लोन टीम प्रभारी जगमाल दायमा को कार्रवाई के निर्देश दिए। टीम को मुखबिर की सूचना पर पृथ्वीराज नगर योजना में पहाड़ी की तलहटी में झाडिय़ों के पीछे 5-6 युवक इकठ्ठा होने की सूचना मिली। टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए 6 जनों को हथियारों के साथ पकड़ा। सिंह ने बताया कि समय रहते नहीं पकड़ा जाता तो गिरोह पंचशील नगर क्षेत्र में मकान चिह्नित कर वारदात अंजाम देने का षडय़ंत्ररच चुके थे। पुलिस की गिरफ्त में सरगना अरांई दादिया निवासी धनराज जाट, खरेखड़ी निवासी प्रभू चीता, किशनगढ़ सिलोरा निवासी कन्हैयालाल, भीलवाड़ा शाहपुरा कामयखानी मोहल्ला निवासी यशवंतसिंह व किशनगढ़ नया शहर माली मोहल्ला निवासी योगेश महावर को गिरफ्तार किया। पुलिस ने गिरोह के सरगना धनराज से एक देशी कट्टा और एक जिन्दा कारतूस बरामद किया जबकि यशवंत सिंह से धारदार चाकू मिला।

मास्टर चाबी से वाहन चोरी

पुलिस ने योगेश महावर व जितेन्द्र से वाहन चोरी में इस्तेमाल होने वाली मास्टर चाबियां बरामद की जबकि कन्हैयालाल, प्रभू से पंजा बरामद किया। पुलिस की कार्रवाई में क्रिश्चियन गंज थाने के हैडकांस्टेबल तेजराम, सिपाही राजकुमार, हरेन्द्र, कमलेश, साइक्लोन टीम के देवेन्द्र सिंह शामिल थे। जेल से भी जुड़े है तार गिरोह अजमेर सेन्ट्रल जेल में बैठे अपने साथी बदमाशों के इशारे पर भी चोरी, नकबजनी और लूट की वारदात अंजाम देते थे। गिरोह के गुर्गे मुन्ना, शाकिर, सतीश, सद्दाम व निजाम समेत करीब 25 से ज्यादा बदमाश अजमेर सेन्ट्रल जेल में है। गिरोह का सरगना धनराज छह माह पहले जमानत पर रिहा होकर बाहर आया था। लग्जरी कार की थी डिमांड गिरोह ऑन डिमांड भी वाहन चोरी की वारदात अंजाम देता है। अबकी बार गिरोह के सरगना को लग्जरी कार चुराने की मांग मिली थी। तब से गिरोह मकान में डकैती की बड़ी वारदात और लग्जरी कार चुराने का षडय़ंत्ररच चुका था। धनराज पर 17 से ज्यादा लूट, चोरी, नकबजनी के प्रकरण दर्ज है।

 

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned