scriptTaslima Nasreen Compares Surrogacy with Burqa and prostitution | Priyanka Chopra Surrogacy baby: तस्लीमा ने वेश्यावृत्ति, बुरका से की सरोगेसी की तुलना | Patrika News

Priyanka Chopra Surrogacy baby: तस्लीमा ने वेश्यावृत्ति, बुरका से की सरोगेसी की तुलना

शुक्रवार शाम को बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा और उनके पति निक जोनस ने घोषणा की थी कि वे सरोगेसी से एक बच्चे के मां-बाप बने हैं। सरोगेसी पर चल रही चर्चा के बीच जानी मानी नारीवादी लेखिका तसलीमा ने सरोगेसी और इसके माध्यम से मातृत्व प्राप्त करने वाली माताओं की भावनाओं पर सवाल उठाया है। तसलीमा ने निक और प्रियंका के सरोगेसी से पैदा हुई पुत्री को 'रेडीमेड बेबी' का नाम दिया है। सोशल मीडिया पर चर्चा है कि बायोलॉजिकल और सोशल पैरेंट के बाद माता-पिता की नई श्रेणी रेडीमेड पैरेंट भी आ गई है...

जयपुर

Updated: January 23, 2022 02:37:50 pm

स्वतंत्र जैन

जयपुर। सरोगेसी के माध्यम से बच्चे को जन्म देने के बाद से ही प्रियंका चौपड़ा ( ( Priyanka Chopra-Nick Jonas) ) चर्चा में बनी हुई हैं। बच्चे के जन्म के दो दिन बाद अब प्रियंका चौपड़ा के चर्चा में आने का कारण है चर्चित लेखिका तसलीमा नसरीन के सरोगेसी को लेकर किए गए एक के बाद कई ट्वीट। तस्लीमा नसरीन (Taslima Nasreen) के ट्वीट के माध्यम से दिए गए बयान ने विवाद खड़ा कर दिया है। दरअसल शुक्रवार शाम को बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा और उनके पति निक जोनस ने घोषणा की थी कि वे सरोगेसी से एक बच्चे के मां-बाप बने हैं हालांकि तसलीमा नसरीन ने प्रियंका चोपड़ा के नाम का आरंभ में जिक्र नहीं किया, लेकिन ये ट्वीट प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस ( Priyanka Chopra-Nick Jonas) की ओर से शुक्रवार रात को सरोगेसी (Surrogacy baby) के माध्यम से अपने पहले बच्चे का स्वागत करने के बाद आया है। बाद में उन्होंने बताया कि उनके ट्वीट का प्रियंका और निक जोनस के युगल से क्या संबंध है।
,,
तस्लीमा नसरीन ने बताया प्रियंका और निक को प्यारा कपल
सरोगेसी से पैदा होने बच्चों के पैरेंट में भावनाओं पर सवाल

सबसे पहले ट्वीट में तसलीमा ने इसकी प्रक्रिया की आलोचना की और सरोगेसी के माध्यम से मातृत्व प्राप्त करने वाली माताओं की भावनाओं पर सवाल उठाया है।
तसलीमा नसरीन ने ट्वीट कर लिखा, 'जब वे सरोगेसी के माध्यम से अपने रेडीमेड बच्चे (Readymade baby) प्राप्त करती हैं तो उन माताओं को कैसा लगता है? क्या उनमें भी बच्चों के लिए वही भावनाएँ होती हैं जो बच्चों को जन्म देने वाली माताओं में होती हैं?'
गरीब महिलाओं के चलते हो रही सरोगेसी
इसके बाद तसलीमा नसरीन ने एक और ट्वीट कर लिखा, "गरीब महिलाओं के चलते सरोगेसी संभव है। अमीर लोग हमेशा अपने स्वार्थ के लिए समाज में गरीबी देखना चाहते हैं। अगर आपको बच्चे को पालने की बेहद ज्यादा जरूरत है, तो बेघर को गोद लें। बच्चों को आपके गुण विरासत में मिलने चाहिए। यह सिर्फ एक स्वार्थी घमंडी अहंकार है।"
वेश्यावृत्ति, बुरका और सरोगेसी के पीछे हैं समान कारक
इसके बाद तस्लीमा ने आज 22 जनवरी को एक और ट्वीट इस पर किया है, तस्लीमा ने ट्वीट में लिखा है - मैं तब तक सरोगेसी स्वीकार नहीं करूंगी जब तक कि अमीर महिलाएं सरोगेट मॉम बनना शुरू नहीं कर देतीं। मैं तब तक बुर्का भी स्वीकार नहीं करूंगी, जब तक पुरुष भी इसे प्यार के कारण पहनना शुरू नहीं कर देते। मैं तब तक वेश्यावृत्ति भी स्वीकार नहीं करूंगी जब तक कि पुरुष भी वेश्यावृत्ति शुरू नहीं कर देते और पुरुषों को अपने महिला ग्राहकों की प्रतीक्षा करते नहीं देखा जाता। अन्यथा सरोगेसी, बुर्का या वेश्यावृत्ति ये सभी सिर्फ महिलाओं और गरीबों के शोषण के ही रूप हैं।
प्रियंका-निक के युगल से है प्यार
इस मुद्दे पर किए गए अपने सबसे अंतिम ट्वीट में तस्लीमा ने ये भी लिखा है कि सरोगेसी पर किए गए मेरे ट्वीट सरोगेसी पर मेरी अलग राय के बारे में हैं। प्रियंका-निक से कोई लेना-देना नहीं है। मुझे इस युगल से प्यार है।
सोशल मीडिया पर मिल रही हैं कपल को बधाई
बता दें , शुक्रवार को कपल ने घोषणा की है कि उनके घर सरोगेसी के जरिए बच्चे का जन्म हुआ है। खुद अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस ने अपने-अपने सोशल मीडिया हैंडल पर माता-पिता बनने की खुशी जाहिर की थी। सोशल मीडिया पर इस कपल को बधाई मिल रही हैं। कपल ने अपने बच्चे के जेंडर का खुलासा करने से परहेज किया है लेकिन एक हालिया रिपोर्ट बताती है कि प्रियंका और निक के घर एक बेटी का जन्म हुआ है।
युगल ने लगाई है प्राइवेसी की गुहार

एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा ने सोशल मीडिया पर नए मेहमान के आने के बारे में जानकारी देते हुए बताया, 'हमें बताते हुए खुशी हो रही है कि सेरोगेसी के जरिए हम एक बच्चे का स्वागत कर रहे हैं। हम सम्मानपूर्वक कहना चाहते हैं कि इस विशेष समय हमारी प्रीवेसी का ध्यान रखा जाए क्योंकि हम अपने परिवार पर ध्यान केंद्रित करते हैं। आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद।'
एक मेडिकल प्रोसेस है सरोगेसी

सरोगेसी एक मेडिकल प्रोसेस है, इसके तहत एक महिला के अंडे को एक चिकित्सा प्रक्रिया के तहत पुरुष के शुक्राणु के साथ फर्टिलाइज किया जाता है और फिर उससे बनने वाले भ्रूण को किराए पर ली गई सरोगेट मां के गर्भाशय में रख दिया जाता है जो बच्चे को गर्भ में रखती है और समय पूरा होने के बाद जन्म देती है। इसके बदले में माँ को पैसा मिलता है और अंडाणु और शुक्राणु देने वाले युगल को बिना किसी प्रसव पीड़ा के अपना बच्चा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

ताजमहल के बंद 22 कमरों में क्या है, ASI ने जारी कर दी फोटोPM Modi Nepal Visit : नेपाल के बिना हमारे राम भी अधूरे हैं, नेपाल दौरे पर बोले पीएम मोदीमहबूबा मुफ्ती ने कहा इनको मस्जिद में ही मिलता है भगवानMonsoon Update 2022: अंडमान-निकोबार पहुंचा मानसून, जानिए आपके राज्य में कब होगी बारिशGyanvapi Survey: ज्ञानवापी परिसर में जहां मिला शिवलिंग उसे अदालत ने तत्काल सील करने का दिया आदेश, जानें क्या कहा DM नेBCCI ने Women T20 Challenge के लिए टीमों का किया ऐलान, मिताली और झूलन को दिया बड़ा झटकाजातिगत जनगणना: भाजपा के विरोध के बावजूद सीएम नीतीश कुमार बिहार में जल्द बुलाएंगे सर्वदलीय बैठकUdaipur Chintan Shivir: राजस्थान में दंगे करवाने में भाजपा के बड़े नेताओं का हाथ, 'चिंतन' के बाद बोले सीएम गहलोत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.