शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए शिक्षक हुए सम्मानित

शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए शिक्षक हुए सम्मानित

Sunil Vandewar | Publish: Feb, 27 2019 05:16:12 PM (IST) | Updated: Feb, 27 2019 05:16:13 PM (IST) स्‍पेशल

धनौरा विकासखण्ड में चलाई जा रही मुहिम का परिणाम

सिवनी. विकासखंड धनौरा में शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए अच्छा पढ़ाएं स्कूल बचाएं के नाम से एक मुहिम ०3 वर्षों से चलाई जा रही है। इसके अंतर्गत पूर्व से शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़े इस विकास खंड में संगोष्ठी और शाला मित्रों को शिक्षक संवर्धन यात्रा के माध्यम से शिक्षक शिक्षिकाओं में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह किया जा रहा है।
शासकीय स्कूल के शिक्षकों ने भी बीआरसीसी धनौरा की इस मुहिम को समर्थन दिया और शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। लगातार बच्चों का शासकीय स्कूलों से प्राइवेट स्कूलों में होने वाले दाखिलों को रोकने के लिए विकासखंड धनौरा के शिक्षक-शिक्षिकाओं के जनसहयोग से साथ-साथ में स्वयं के व्यय पर स्कूल भवनों को संवार रहे हैं। प्राइवेट स्कूलों की तर्ज पर बैनर, पोस्टर, चार्ट लगाकर अध्यापन को रोचक बना रहे हैं। पूरे समय शाला में उपस्थित रहकर बच्चों में अपेक्षित गुणवत्ता ला रहे हैं।
बीआरसीसी धनौरा की इस मुहिम का असर अब ब्लाक में दिखने लगा है। रूप से लगा है, ब्लॉक के 80 प्रतिशत स्कूल अपेक्षित गुणवत्ता प्राप्त कर चुके हैं। विगत सत्र में इस ब्लॉक से 10 छात्र-छात्रा नवोदय के लिए चयनित हुए थे। इस सत्र में 8 विद्यार्थी राष्ट्रीय मेरिट कम मींस जूनियर साइंस ओलंपियाड में बच्चों के चयन लगातार हो रहे हैं। इस बार अवार्ड का आमनाला के 60 बच्चों का चयन हुआ है, इसमें एक छात्र का राष्ट्रीय स्तर पर चयन हुआ है। जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने मॉडल प्रदर्शित कर रहा है सफलता के लिए विकासखंड धनौरा के बीआरसीसी ठाकुर लगातार प्रयासरत हैं। शिक्षकों को प्रोत्साहित करने के लिए विगत दिवस तुआखेड़ा, बेगरवानी में आयोजित संगोष्ठी में ब्लॉक के 80 शिक्षक शिक्षिकाओं को उनके उत्कृष्ट कार्यों के लिए प्रशस्ति पत्र और मेडल देकर सम्मानित किया गया।
शिक्षकों के सम्मान के लिये जन शिक्षक के बोरिया से एजी खान, घनश्याम उइके, सुनवारा से अमरसिंग, लखन बेलिया, कुडारी से घनश्याम चौधरी, रामप्रसाद बेगरवानी से नीलेश जैन, राधेश्याम निर्मलकर, ग्वारी से हृदयलाल कुरैती, पीसी यादव, धनौरा से ओंकार मरावी और अरुण कुमरे ने कुशल मार्गदर्शन व श्रेष्ठ परिणाम के लिए हर्ष व्यक्त किया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned