मतपत्र में निकला दस रुपए का नोट!

भाजपा के प्रत्याशी कमल पाठक ने की थी आपत्ति, निर्वाचन अधिकारी व ऑब्जर्वर ने किया दरकिनार, पुष्कर पालिकाध्यक्ष चुनाव में मतगणना

By: CP

Published: 27 Nov 2019, 07:01 AM IST

स्‍पेशल

पुष्कर.(अजमेर) पुष्कर नगरपालिका अध्यक्ष चुनाव की मतगणना के दौरान एक मतपत्र से दस रुपए का नोट निकला। मत एवं निर्वाचन की गोपनीयता का भंग का आरोप लगाते हुए भाजपा के पालिकाध्यक्ष पद के प्रत्याशी कमल पाठक ने उपखण्ड निर्वाचन अधिकारी व ऑब्जर्वर को आपत्ति जताते हुए मत को खारिज करने की मांग की, मगर ऑब्जर्वर ने इंकार कर दिया।

पुष्कर में मंगलवार को पालिकाध्यक्ष पद के मतदान के दौरान एक पार्षद की ओर से मतपत्र में 10 रुपए का नोट समेट कर रख दिया। भाजपा विधायक सुरेश सिंह रावत ने बताया कि निर्वाचन अधिकारी व टीम की ओर से भाजपा प्रत्याशी कमल पाठक, एजेन्ट एवं कांग्रेस समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी रविकांत व एजेन्ट के समक्ष मतगणना प्रारंभ की। इस दौरान मतपत्र की छंटनी के दौरान ही एक प्रत्याशी के मतपत्र से दस रुपए का नोट निकला। इस पर भाजपा पालिकाध्यक्ष पद के प्रत्याशी पाठक ने आपत्ति दर्ज करवाई। उन्होंने आपत्ति दर्ज करवाते हुए संबंधित मत को खारिज करने की मांग की। मगर निर्वाचन अधिकारी व वहीं मौजूद ऑब्जर्वर ने मत खारिज करने से इंकार कर दिया। पाठक की नाराजगी व आपत्ति नजरअंदाज करने के बाद मतगणना प्रारंभ हुई। जिसमें भाजपा के पाठक को 13 एवं कांग्रेस समर्थित निर्दलीय रविकांत को 12 मत मिले।

इनका कहना है

मतगणना शुरू होने से पूर्व छंटनी के दौरान एक प्रत्याशी के मत में दस रुपए का नोट निकला। इस पर मत व निर्वाचन की गोपनीयता भंग का आरोप लगाते हुए भाजपा प्रत्याशी पाठक ने आपत्ति जताते हुए संबंधित मत खारिज करने की मांग की। इस पर निर्वाचन अधिकारी एवं ऑब्जर्वर ने मत खारिज करने से इंकार कर दिया। सरकारी मशीनरी का सरकार दुरुपयोग कर रही है। रजिस्टर्ड आपत्ति के बावजूद अधिकारियों ने सुनवाई नहीं की।

सुरेश सिंह रावत, विधायक पुष्कर

मतगणना के दौरान दस रुपए का नोट निकला लेकिन मत में नहीं होकर बैलेट पर मिला।

देविका तोमर, निर्वाचन अधिकारी/उपखण्ड अधिकारी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned