पारोस द्वीप पर पर्यटक बढ़ा रहे प्लास्टिक का कचरा, ऐसे निपटेगा यूनान

सैलानियों की पसंद : 13 हजार की आबादी वाले ग्रीक द्वीप परोस पर हर वर्ष 4 लाख सैलानी आते हैं।

By: pushpesh

Published: 24 Mar 2021, 11:46 PM IST

यूनानी द्वीप पारोस दो वर्ष में पूरी तरह प्लास्टिक मुक्त हो जाएगा। ग्रीस के साइक्लेडिक क्षेत्र में पारोस द्वीप अपने नीले समुद्र, सफेद रंग के आशियानों और प्राकृतिक सौंदर्य के लिए विख्यात है। यहां हर वर्ष गर्मियों में लगभग 4 लाख सैलानी आते हैं। ब्रिटेन के एनजीओ कॉमन सीज ने क्लीन ब्लू परियोजना शुरू की है। पारोस में बेमिसाल प्राकृतिक सुंदरता के कारण दुनिया के पर्यटकों के लिए हमेशा आकर्षण का केंद्र रहा है। लेकिन पिछले दो दशक में यहां बड़ी संख्या में आने वाले सैलानी प्लास्टिक प्रदूषण छोड़ जाते हैं, जो जलीय जीवों की कब्रगाह बनता जा रहा है। इसके चलते ही ग्रीस सरकार ने प्लास्टिक से निपटने का यह निर्णय लिया है।

अपशिष्ट प्रबंधन के साथ जागरूकता भी
संस्था कॉमन सीज ने द्वीप को प्लास्टिक मुक्त करने के साथ ही अपशिष्ट प्रबंधन का बीड़ा उठाया है। यहां 95 फीसदी कचरा प्लास्टिक का है, जो पर्यटकों की वजह से आया है। इसके लिए कॉमन सीज ने 50 उद्योगों को प्रतिबद्ध किया है। साथ ही रियूजेबल शॉपिंग बैग्स और पानी की बोतलों से दूर रहने की सलाह दी है।

pushpesh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned