एशियाई बॉक्सिंग चैंपियनशिप में हिस्सा नहीं ले पाएंगी सिमरनजीत कौर, भारतीय टीम से हुईं बाहर

60 किलोग्राम में हिस्सा लेने वाली 25 वर्षीय राष्ट्रीय चैंपियन ने पिछले सप्ताह कोविड-19 पॉजिटिव पाई गई थीं।

By: Mahendra Yadav

Published: 01 May 2021, 04:04 PM IST

राष्ट्रीय चैंपियन और ओलंपिक-बॉक्सर सिमरनजीत कौर को 21 मई से दुबई में होने वाली एशियाई बॉक्सिंग चैंपियनशिप के लिए भारतीय टीम से बाहर कर दिया गया है क्योंकि वह अभी भी कोविड -19 से उबर रही हैं। 60 किलोग्राम में हिस्सा लेने वाली 25 वर्षीय राष्ट्रीय चैंपियन ने पिछले सप्ताह कोविड-19 पॉजिटिव पाई गई थीं। इस टूर्नामेंट का आयोजन में नई दिल्ली में होना था। बता दें कि बीएफआई ने पिछले महीने यहां आईजी स्टेडियम में महिला वर्ग में राष्ट्रीय चयन ट्रायल आयोजित किया था। लेकिन कोविड -19 मामलों में हालिया उछाल के कारण, भारतीय खेल प्राधिकरण ने नई दिल्ली में सभी राष्ट्रीय शिविरों को बंद कर दिया था।

टोक्यो ओलंपिक के लिए किया क्वालीफाई
बता दें कि सिमरनजीत टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली चार भारतीय महिला मुक्केबाजों में शामिल हैं। सिमरनजीत के अलावा छह बार के विश्व चैंपियन एमसी मेरीकोम (51 किग्रा), लोवलिना बोर्गोहोन (69 किग्रा) और पूजा रानी (75 किग्रा) अन्य तीन हैं जो 23 जुलाई से शुरू होने वाले टोक्यो ओलंपिक के लिए कोटा हासिल कर चुकी हैं।

यह भी पढ़ें— दिल्ली के बजाय अब दुबई में होगी एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप

मां के कहने पर शुरू की बॉक्सिंग
सिमरनजीत ने अपनी मां के कहने पर बॉक्सिंग शुरू की थी। हाल ही उन्होंने एक मीडिया हाउस को इंटरव्यू में बताया कि उनकी बड़ी बहन और दो छोटे भाई भी बॉक्सर हैं। सिमरनजीत को भी उनकी मां ने ही बॉक्सिंग के लिए फोर्स किया। मां के कहने के बाद सिमरनजीत ने बॉक्सिंग शुरू की। सिमरनजीत का कहना है कि उनकी मां ही सबसे बड़ी प्रेरणा है उनके लिए। वहीं ओलंपिक खेलों की तैयारी पर सिमरनजीत ने कहा कि ओलंपिक खेलों का एक साल के लिए स्थगित होना उनके लिए फायदेमंद साबित हुआ है, क्योंकि उन्हें इसकी तैयारी करने के लिए भरपूर मौका मिला। इस दौरान उन्होंने बहुत मेहनत की और अपनी कमजोरियों को दूर करने पर जोर दिया।

यह भी पढ़ें— सिर में लगी चोट से जूझ रहे जॉर्डन के 19 साल के मुक्केबाज राशिद अल-स्वैसत का निधन

मेरीकॉम के साथ प्रैक्टिस
सिमरनजीत ने कहा कि मेरीकॉम से उन्हें बहुत कुछ सीखने को मिला है। सिमरनजीत ने बताया कि वह कैंप में मेरीकॉम केे साथ प्रैक्टिस करती हैं और उनके साथ काम करना बहुत बड़ी बात है। सिमरनजीत का कहना है कि वह उनके लिए प्रेरणास्त्रोत हैं और उनको देखकर बहुत कुछ सीखने को मिलता है। ट्रेनिंग के दौरान उन्हें बहुत सारी चीजों के बारे में बताती हैं।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned