कॉमनवेल्थ गेम्स: भारत के शूटर फाइनल में पहुंचे, भारतीय हॉकी टीम ने मलेशिया को 2-1 से हराया

पदक तालिका में 10 स्वर्ण, चार रजत और पांच कांस्य पदकों के साथ कुल 19 पदक जीतकर भारत तीसरे नंबर पर पहुंच गया है।

By: Mohit Saxena

Published: 10 Apr 2018, 09:37 AM IST

नई दिल्ली। आॅस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में चल रहे 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में भारतीय खिलाड़ियों का दमदार प्रदर्शन छठवें दिन भी जारी रहने की उम्मीद है। मंगलवार को निशानेबाजी में पुरुष और महिला वर्ग से और मेडल आने की उम्मीद बनी हुई है। हीना सिद्धू और अन्नू सिंह महिलाओं की 25 मीटर एयर पिस्टल के फाइनल तक पहुंच गईं हैं। वहीं, पुरुषों की 50 मीटर राइफल में प्रोन, गगन नारंग और चेन सिंह ने फाइनल में जगह बनाई है। पुरुष हॉकी में भारत ने मलेशिया को 2-1 से हराया दिया है। इसके साथ टीम सेमीफाइनल में पहुंच गई है।

19 पदकों के साथ भारत तीसरे नंबर पर

सोमवार को निशानेबाजी में पिस्टल किंग जीतू राय ने रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पर तो युवा मेहुली घोष ने रजत और अपूर्वी चंदेला व ओम प्रकाश मिथरवाल ने कांस्य पर निशाना साधा। टेेबल टेनिस में महिला टीम के बाद पुरुष टीम ने भी सुनहरी सफलता हासिल की। बैडमिंटन में भी दिग्गज साइना नेहवाल और किदांबी श्रीकांत की अगुआई में टीम ने ऐतिहासिक सिल्वर मेडल हासिल किया।

वेटलिफ्टिंग में प्रदीप सिंह ने रजत पदक जीता। भारत ने तीन स्वर्ण, दो कांस्य सहित कुल सात पदक जीते। इससे वह तालिका में 10 स्वर्ण, चार रजत और पांच कांस्य पदकों के साथ कुल 19 पदक जीतकर तीसरे नंबर पर पहुंच गया है।

मोहम्मद अनास ने रचा इतिहास

मोहम्मद अनास पुरुषों के 400 मीटर फाइनल में मुकाबला करेंगे। इस वर्ग में मिल्खा सिंह 1958 में फाइनल के लिए क्वालीफाई करने वाले पहले भारतीय हैं। चार भारतीय मुक्केबाज भी क्वार्टर फाइनल मुकाबले के लिए खेलेंगे। भारत बैडमिंटन मिश्रित युगल टीम भी बुधवार को खेलेगी। इन सभी से पदक मिलने की गारंटी है। इससे पहले शनिवार को भारोत्तोलक आर वेंकट राहुल (85 किग्रा) ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में भारत को चौथा स्वर्ण पदक दिलाया था।

वेंकट ने इस स्पर्धा में स्नैच और क्लीन एंड जर्क में कुल 338 किलोग्राम का भार उठाकर सोना अपने नाम किया। इस स्पर्धा में सामोआ के डॉन ओपेलोगे को रजत पदक हासिल हुआ। उन्होंने कुल 331 किलो का भार उठाया। मलेशिया के मोहम्मद फाजरुल अजेरी मोहदाद को कांस्य पदक हासिल हुआ। मोहम्मद ने कुल 328 किलोग्राम का भार उठाया।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned