Tokyo Olympics 2020: मुक्केबाजी: सिमरनजीत कौर ने किया निराश, पहला ही मुकाबला हारकर हुईं बाहर

Tokyo Olympics 2020: थाईलैंड की सुदापोर्न सीसोंदी ने उन्हें 5-0 से हराया। सुदापोर्न सीसोंदी तीनों राउंड में जीतने में सफल रहीं। इस हार के साथ सिमरनजीत का टोक्यो ओलंपिक में सफर खत्म हो गया है।

By: Mahendra Yadav

Published: 30 Jul 2021, 08:46 AM IST

Tokyo Olympics 2020: टोक्यो ओलंपिक के आठवें दिन बॉक्सर सिमरनजीत कौर का मुकाबला महिला 60 किलो के अंतिम-16 में थाईलैंड की सुदापोर्न सीसोंदी से हुआ। इस मुकाबले में सिमरनजीत कौर पहला राउंड हार गईं। वह 5-0 से ये राउंड हारीं। सिमरनजीत कौर पहली बार ओलंपिक में उतर रही हैं और ऐसे में इसका दबाव साफ उनके खेल में देखा गया। सिमरनजीत कौर दूसरा राउंड भी हार गईं। दूसरे राउंड में उन्हें 0-5 से हार मिली है। उनके लिए वापसी करना मुश्किल लगा। सिमरनजीत कौर महिला 60 किलो वर्ग के अंतिम-16 के मुकाबले में हार गईं। वह पहले दौर में ही बाहर हो गईं। थाईलैंड की सुदापोर्न सीसोंदी ने उन्हें 5-0 से हराया। सुदापोर्न सीसोंदी तीनों राउंड में जीतने में सफल रहीं। इस हार के साथ सिमरनजीत का टोक्यो ओलंपिक में सफर खत्म हो गया है।

गांव के लोगों को उम्मीदें
मुक्केबाज सिमरनजीत कौर का यह पहला ओलंपिक है। सिमरनजीत लुधियाना के गांव चकर से हैं। सिमरनजीत के मुकाबले को लेकर गांव के लोग काफी उत्साहित हैं। वहीं मुक्केबाज सिमरनजीत कौर बाठ की मां राजपाल कौर ने कहा कि पहले मुकाबले में बेटी बुलंद हौसले के साथ उतरेगी। सिमरनजीत 60 किलोग्राम भार वर्ग में अपनी प्रतिभा दिखाएंगी। उन्होंने कहा कि सिमरनजीत की जीत के लिए पूरा गांव अरदास कर रहा है।

यह भी पढ़ें— Tokyo olympics 2020: पीवी सिंधु ने कहा-शुरू से ही मैच दर मैच रणनीति पर चल रही हूं

गांववालों ने किया सपोर्ट
सिमरनजीत कौर की मां राजपाल कौर ने मीडिया को बताया था कि सिमरनजीत कौर को इस मुकाम पर पहुंचाने में पूरे परिवार, अकादमी संचालकों व गांववालों का सहयोग रहा है। सिमरनजीत कौर से सभी को टोक्यो ओलंपिक में मेडल लाने की काफी उम्मीदें हैं। सिमरनजीत की मां बेटी की जीत के लिए सुबह शाम गुरुद्वारा साहिब में अरदास करने जाती हैं। उन्हें पूरी उम्मीद है कि उनकी बेटी देश का नाम जरूर रोशन करेगी।

यह भी पढ़ें— tokyo olympics 2020 बॉक्सिंग में बड़ा झटका, कांटे की लड़ाई में हारीं मैरीकॉम

tokyo olympics 2020
Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned