scriptTokyo Olympics 2020-Hockey player salima tete father is farmer | Tokyo Olympics 2020: नक्सल प्रभावित इलाके में खेती करता है हॉकी खिलाड़ी सलीमा टेटे का परिवार | Patrika News

Tokyo Olympics 2020: नक्सल प्रभावित इलाके में खेती करता है हॉकी खिलाड़ी सलीमा टेटे का परिवार

Tokyo Olympics 2020: सलीमा के गांव में एक भी टीवी सेट नहीं था, लेकिन अब सलीमा के गांववाले और परिवार अपनी बेटी को हॉकी के सेमीफाइनल में खेलते देख सकेंगे। सेमीफाइनल मुकाबले के लिए प्रशासन ने सलीमा के घर में टीवी और डीटीएच लगाया है।

नई दिल्ली

Updated: August 04, 2021 12:58:08 pm

tokyo olympics 2020 टोक्यो ओलंपिक में आज भारतीय महिला हॉकी टीम का सेमीफाइनल मुकाबला है। भारत का मुकाबला सेमीफाइनल में अर्जेंटीना से होगा। भरतीय महिला हॉकी टीम के लिए आज बहुत महत्वपूर्ण दिन है। टोक्यो ओलंपिक में भारत की बेटियां हॉकी में कमाल का प्रदर्शन कर रही हैं। झारखंड के नक्सल प्रभावित सिमडेगा जिले से आने वाली हॉकी खिलाड़ी सलीमा टेटे भी चर्चा में आ गई हैं। साधारण परिवार से आने वालीं सलीमा ने सोमवार को हुए हॉकी के मुकाबले में शानदार प्रदर्शन कर वाहवाही बटोरी। इस पर सलीमा के गांव-घर तक खूब जश्न मना। सलीमा टेटे का परिवार खेती कर अपना जीवनयापन करता है।
Salima Tete
Salima Tete
गांव में टीवी सेट नहीं
सलीमा के गांव में एक भी टीवी सेट नहीं है, लेकिन अब सलीमा के गांववाले और परिवार अपनी बेटी को हॉकी के सेमीफाइनल में खेलते देख सकेंगे। गांव में कोई टीवी न होने से परिवारवाले और गांववाले सलीमा को खेलते नहीं देख पा रहे थे। जब मीडियावाले उनके गांव जाते थे तो लोगों को लगता था कि उनकी बेटी में कुछ अच्छा खेल दिखाया है। सलीमा जब हॉकी की वर्ल्ड चैंपियनशिप खेलने गईं तो उनके पास ट्रॉली बैग तक नहीं था, कुछ परिचितों ने किसी से पुराना बैग लेकर दिया था।
यह भी पढ़ें— टोक्यो ओलंपिक में भारतीय पहलवानों का शानदार प्रदर्शन, सेमीफाइनल में पहुंचे रवि और दीपक, जागी मेडल की उम्मीदें

salima_tete2.pngसोशल मीडिया के जरिए पहुंचाई प्रशासन तक बात
बेटी सलीमा को खेलते देखने के लिए सोशल मीडिया के जरिए टीवी न होने की बात प्रशासन तक पहुंचाई गई। इसकेे बाद सरकारी महकमा एक्टिव हुआ और सलीमा के घर में टीवी और डीटीएच लग गया। अब गांववालों और परिवार को आज के मैच का इंतजार है। वहीं बेटी की उपलिब्ध पर परिवार बहुत खुश है। उन्होंने सेमीफाइनल मैच के लिए बेटी को बधाई देते हुए कहा कि हम बहुत खुश हैं, हमें अपनी बेटी पर बहुत गर्व है।
यह भी पढ़ें— जैवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा ने किया कमाल, पहला ही थ्रो ऐसा फेंका कि सीधे पहुंचे फाइनल में

परिवार की चाहत, स्वर्ण पदक लेकर लौटे टीम
सलीमा के परिवार और पूरे गांव को अपनी बेटी पर गर्व है। सलीमा टेटे की छोटी बहन महिमा टेटे ने कहा कि वह बहुत खुश हैं, उन्हें गर्व है और उम्मीद है कि भारत की टीम सेमीफाइनल भी जीतेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि वे स्वर्ण पदक के साथ भारत वापसी करेंगी। आज पूरा गांव बहुत खुश है, हम साथ में मैच देखते हैं। बहन महिमा लगातार सलीमा के संपर्क में है। पहले लगातार तीन मैच हारने से सलीमा निराश हो गई थीं। ऐसे में महिमा वीडियो कॉल पर बात कर अपनी बहन का उत्साह बढ़ाती थीं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

उत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनाव 2022 की डेट का ऐलान, जानें कितने सीटों के लिए और कब आएगा रिजल्टपूर्व CM अशोक चव्हाण ने किया खुलासा: BJP सांसद मुरली मनोहर जोशी ने रिपोर्ट में खुद कहा 'PM मोदी सेना के साथ खिलवाड़ कर रहे'NeoCov: नियोकोव वायरस के लक्षण, ठीक होने की दर, जानिए सबकुछPandit Jasraj Cultural Foundation: संगीत के क्षेत्र में भी होना चाहिए तकनीक और आईटी का रिवॉल्यूशन: PM Modiरेलवे भर्ती 2022: रेलवे में नौकरी का सुनहरा मौका, इन पदों पर सीधे इंटरव्यू के जरिए हो रही भर्तीकाशी विश्वनाथ मॉडल पर बनेगा महांकाल कॉरीडोर, सिंहस्थ-28 पर अभी से कामCovid-19 Update: महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,948 नए मामले, 103 मरीजों की मौत हुई।देश में 15 से 18 साल की उम्र वाली 60 फीसदी आबादी को लग चुकी है कोरोना की पहली खुराक: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.