महिला विश्व कप 2017 : स्मृति मंधाना बन गई इंडियन वुमन टीम की विराट

महिला विश्व कप 2017 : स्मृति मंधाना बन गई इंडियन वुमन टीम की विराट
smriti

guest user | Updated: 30 Jun 2017, 02:23:00 PM (IST) खेल

भारत ने महिला विश्व कप में गुरुवार को अपनी लगातार दूसरी जीत दर्ज की है। अपने दूसरे मैच में भारत ने वेस्टइंडीज को सात विकेट से मात दी। स्मृति मंधाना वर्ल्ड कप में शतक जमाने वाली चौथी भारतीय बल्लेबाज बन गई हैं।

वुमन वर्ल्डकप में भारतीय महिला टीम ने वेस्ट इंडीज को 7 विकेट हराकर लगातार अपनी दूसरी जीत दर्ज की। वेस्ट इंडीज ने टीम इंडिया को जीत के लिए 184 रन का लक्ष्य दिया था। इस जीत की हीरो रहीं 21 साल की स्मृति मंधाना। स्मृति ने 108 गेदों में 13 चौके और दो छक्कों की मदद से अहम शतकीय पारी खेली। स्मृति के अलावा कप्तान मिताली राज ने 46 रनों की पारी खेली। इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 108 रनों की साझेदारी की। यह साझेदारी तब आई जब भारत ने 33 रनों पर ही अपने दो विकेट खो दिए थे। ये  स्मृति के करियर का हाइएस्ट स्कोर रहा। 


मशहूर फुटबॉलर मेस्सी की शादी में हिस्सा लेंगे कई बड़े सितारे, पॉप स्टार शकीरा भी शामिल


स्मृति के शानदार शतक के कारण वो कई घंटों तक सोशल मीडिया पर छाई रहीं और लोगों ने जम कर उनकी तारीफ की। स्मृति के बेहतरीन फॉर्म और शॉट सिलेक्शन को देखकर उन्हें वुमन टीम की विराट कोहली कहा जाने लगा है। क्रिकेटर वीरेंदर सहवाग और वीवीएस लक्ष्मण ने भी उनके खेल की तारीफ़ करी। 


ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट कप्तान स्मिथ ने घुटनों पर बैठकर किया प्रेमिका को प्रपोज, मिला यह जवाब


18 जुलाई 1996 को मुंबई में जन्मी स्मृति के पिता ने महाराष्ट्र के संगली से डॉमिस्टिक क्रिकेट खेला है। इसके बाद उनके भाई श्रवण ने भी क्रिकेट खेलना शुरू किया। भाई को देखते हुए स्मृति में क्रिकेट का इंटरेस्ट जागा। महज 9 साल की उम्र में स्मृति ऐसा गेम खेलने लगी कि उन्हें महाराष्ट्र की अंडर-15 टीम में जगह मिल गई। 


टीम इंडिया: तो सचिन के कहने पर कोच पद के लिए आवेदन भरने को राजी हुए रवि शास्त्री


15 साल की उम्र तक स्मृति डॉमिस्टिक टूर्नामेंट की स्टार बन चुकी थीं, हालांकि, एक वक्त ऐसा भी आया कि उन्होंने क्रिकेट छोड़ देने का सोच लिया था। स्मृति ने एक इंटरव्यू में बताया कि उन्हें बोर्ड एग्जाम की चिंता थी और वे आगे साइंस की पढ़ाई करना चाहती थीं। लेकिन स्मृति के पेरेंट्स ने उन्हें समझाया और क्रिकेट में आगे बढ़ने के लिए मोटिवेट किया। अगले ही साल स्मृति की किस्मत चमकी और उन्हें बांग्लादेश के खिलाफ वनडे डेब्यू करने का मौका मिला।


मंदाना वर्ल्ड कप में शतक जड़ने वाली भारत की चौथी खिलाड़ी हैं। हरमनप्रीत कौर, मिताली राज, टी कामिनी भी वर्ल्ड कप में शतकीय पारियां खेल चुकी हैं। वैसे मंधाना वर्ल्ड कप में भारत के लिए शतक लगाने वाली सबसे युवा खिलाड़ी हैं। वर्ल्ड क्रिकेट की बात करें तो सबसे कम उम्र में शतक लगाने के मामले में मंधाना तीसरे नंबर पर आती हैं। मंधाना ने सिर्फ 20 साल 346 दिन की उम्र में वर्ल्ड कप में शतक जड़ा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned