script1628 cusecs being found at Khakhan in Ganganahar, two turns of PS and | -गंगनहर में खखां पर मिल रहा 1628 क्यूसेक, पीएस व एमके नहर की दो-दो बारियां गई सूखी | Patrika News

-गंगनहर में खखां पर मिल रहा 1628 क्यूसेक, पीएस व एमके नहर की दो-दो बारियां गई सूखी

गंगनहर का जुलाई माह का शेयर 2400 क्यूसेक सिंचाई पानी

श्री गंगानगर

Published: July 29, 2021 09:59:59 am

गंगनहर का जुलाई माह का शेयर 2400 क्यूसेक सिंचाई पानी

-गंगनहर में खखां पर मिल रहा 1628 क्यूसेक, पीएस व एमके नहर की दो-दो बारियां गई सूखी


श्रीगंगानगर. पंजाब में चुनाव की वजह से गंगनहर में शेयर के अनुसार सिंचाई पानी पूरा नहीं मिल रहा है। बीच में सिंचाई पानी ठीक मिल रहा था जबकि गंगनहर में जुलाई माह का बीबीएमबी में 2400 क्यूसेक सिंचाई पानी का शेयर तय हुआ था जबकि बुधवार को खखां हैड पर शाम छह बजे 1628 क्यूसेक सिंचाई पानी मिल रहा था। इस पानी में से 350 क्यूसेक पेयजल और लॉसेज अलग से होता है। इस कारण फिर नहरों में सिंचाई पानी चलाने के लिए कम पानी बचता है। इस कारण पीएस व एमके नहर की दो-दो बारियां सूखी जा रही है। यह दोनों नहरें 27 जुलाई को खुलनी थी लेकिन पानी कम होने की वजह से नहीं खुल पाई।
-गंगनहर में खखां पर मिल रहा 1628 क्यूसेक, पीएस व एमके नहर की दो-दो बारियां गई सूखी
-गंगनहर में खखां पर मिल रहा 1628 क्यूसेक, पीएस व एमके नहर की दो-दो बारियां गई सूखी
772 क्यूसेक सिंचाई पानी कम

गंगनहर में सिंचाई पानी तीन-चार दिन से शेयर के अनुसार नहीं मिल रहा है। जुलाई माह का गंगनहर का शेयर 2400 क्यूसेक सिंचाई पानी तय हुआ था। जबकि बुधवार को गंगनहर में शाम छह बजे खखां हैड पर 1628 क्यूसेक सिंचाई पानी मिल रहा था।
शेयर से गंगनहर में वर्तमान में 772 क्यूसेक पानी कम मिल रहा है। इसमें कुछ पानी तो चोरी की वजह से लॉसेज में ही चला जाता है। हालांकि सिंचाई पानी कम होने पर जल संसाधन विभाग ने पंजाब के साथ संयुक्त रूप से बीकानेर कैनाल गंगनहर में अवैध रूप से पानी चोरी करने पर कार्रवाई करते हुए 15 से 20 अवैध पाइपें पकड़ी गई है। जबकि फिरोजपुर फीडर से निकलने वाली 45 आरडी बीकानेर कैनाल गंगनहर में निर्धारित शेयर के अनुसार सिंचाई पानी पंजाब नहीं छोड़ रहा है।
दो-दो बारियां जा रही सूखी

किसानों ने बताया कि गंगनहर में सिंचाई पानी कम होने की वजह से पीएस व एमके नहर के किसानों की दो-दो बारियां सूखी जा रही है। बारियां सूखी जाने पर किसानों की परेशानी बढ़ रही है। किसानों ने बताया कि क्षेत्र में अभी तक पर्याप्त बारिश नहीं हुई है। इस कारण नरमा-कपास,मूंग व ग्वार,हरा चारा,गन्ना व बागवानी आदि फसलों को सिंचाई पानी की मांग बनी हुई है। पानी की बारियां सूखी जाने पर किसानों की खरीफ की फसलें प्रभावित हो रही है।
-------
एफ नहर में बैलेंस चलने पर जीजी की होगी भरपाई

जीजी नहर का मंगलवार पूरी तरह प्रभावित हुआ है। किसान जगमीतसिंह ने रेग्यूलेशन कमेटी की बैठक में आए जल संसाधन विभाग के अधिशासी अभियंता के समक्ष सवाल किया कि इस बार को सिंचाई पानी नहीं मिला है। इसलिए इस वार को सिंचाई पानी देकर भरपाई की जाए। बैठक में तय किया गया कि एफ नहर में बैलेंस का पानी चलने पर जीजी नहर का मंगलवार की भरपाई कर दी जाएगी। यदि नहर पूरी होने पर जीजी नहर की भरपाई करना संभव नहीं होगा।
फैक्ट फाइल

-गंगनहर में जुलाई माह का पानी का शेयर-2400 क्यूसेक
-खखां हैड पर बुधवार शाम को सिंचाई पानी मिल रहा था-1628 क्यूसेक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.