श्रीगंगानगर-हनुमानगढ़ सहित प्रदेश में 2400 करोड़ की लागत से बनेंगे 200 गोदााम

-राष्ट्रीय कृषि विकास योजना में अतिरिक्त भंडारण क्षमता विकसित करने के लिए मिली स्वीकृति
- सहकारिता विभाग के माध्यम से होगा गोदामों का निर्माण, श्रीगंगानगर में 12 और हनुमानगढ़ में 11

By: Krishan chauhan

Published: 03 Apr 2021, 10:12 AM IST

श्रीगंगानगर-हनुमानगढ़ सहित प्रदेश में 2400 करोड़ की लागत से बनेंगे 200 गोदााम

-राष्ट्रीय कृषि विकास योजना में अतिरिक्त भंडारण क्षमता विकसित करने के लिए मिली स्वीकृति
- सहकारिता विभाग के माध्यम से होगा गोदामों का निर्माण, श्रीगंगानगर में 12 और हनुमानगढ़ में 11

पत्रिका एक्सक्लूसिव— श्रीगंगानगर. प्रदेश में राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अन्तर्गत भंडारण की अतिरिक्त क्षमता विकसित करने के लिए दो सौ ग्राम सेवा सहकारी समितियों में गोदाम बनाए जाएंगे। इस पर 2400 करोड़ रुपए की राशि खर्च की जाएगी। गोदामों के निर्माण से अनाज, खाद-बीज के भंडारण के लिए सामने आने वाली समस्याओं से बड़ी राहत मिलेगी। श्रीगंगानगर जिले में 12 और हनुमानगढ़ जिले में 11 गोदाम का निर्माण होगा। इन पर 2 करोड़ 76 लाख रुपए की राशि खर्च की जाएगी। सहकारिता विभाग के माध्यम से लेंपस व पैक्स में होने वाले इन गोदामों की भंडारण क्षमता 100 मैट्रिक टन की होगी। प्रत्येक गोदाम पर 12 लाख रुपए व्यय किए जाएंगे। गोदाम निर्माण की योजना का राज्य स्तरीय स्वीकृति समिति ने अनुमोदन कर दिया है। इसके लिए केंद्रीय सहकारी बैंक के प्रबंध निदेशक को नोडल अधिकारी की जिम्मेदारी सौंपी गई है। गोदाम निर्माण के लिए ग्राम सेवा सहकारी समिति के पास स्वयं की पर्याप्त भूमि आवश्यक होनी चाहिए। निर्माण के बाद शेष राशि बचने पर इसका उपयोग चार दीवारी निर्माण पर करना होगा।

इन समितियों में बनेगा गोदाम

श्रीगंगानगर जिले की श्रीकरणपुर क्षेत्र की ग्राम सेवा सहकारी समिति कर्मगढ़ जगतेवाला, जय भारत, रूपनगर, दो एक्स, पदमपुर क्षेत्र में 37 बीबी व राजपुरावाला, रायसिंहनगर में ख्यालीवाला, सावंतसर व लिखमेवाला, अनूपगढ़ क्षेत्र में11 पी, सादुलशहर में चक महाराजका व श्रीविजयनगर में बुगिया समिति में गोदाम का निर्माण किया जाएगा। पिछली बार जिले में छह गोदाम का निर्माण किया गया था। इनमें ग्राम सेवा सहकारी समिति तीन सी छोटी, 24 एपीडी, बिलोचिया, मोहनपुरा, 33 एच व तीन ओ में गोदाम निर्माण किए गए थे।
निर्माण कार्य के लिए समितियों का गठन

गोदाम निर्माण के लिए निर्माण सामग्री क्रय करने व अन्य कार्यों के लिए समिति गठित की जाएगी। जिसमें समिति अध्यक्ष, व्यवस्थापक और केंद्रीय सहकारी बैंक के ऋण पर्यवेक्षक सम्मिलित रहेंगे। निर्माण सामग्री क्रय करने के लिए होने वाली बैठक में ऋण पर्यवेक्षक की उपस्थिति अनिवार्य रहेगी। इसके अतिरिक्त निर्माण कार्यों की निगरानी के लिए गठित समिति में केंद्रीय सहकारी बैंक के प्रबंध संचालक व सहकारी समितियों के उप पंजीयक रहेंगे। चार माह में गोदाम निर्माण कार्य पूर्ण करने की अवधि रहेगी, जिसमें उन्हें प्रति माह कार्यों की निगरानी कर रिपोर्ट विभाग को देनी होगी।

फैक्ट फाइल

श्रीगंगानगर जिले की स्थिति

-जिले में गोदाम का निर्माण होगा-12
-गोदाम में निर्माण पर रााशि खर्च होगी-1 करोड़ 44 लाख

राज्य की स्थिति
-राज्य में गोदाम का निर्माण होगा-200

-राज्य में गोदाम निर्माण पर राशि खर्च होगी-2400 करोड़
-प्रत्येक गोदाम पर राशि खर्च होगी-12 लाख रुपए

गोदामों के निर्माण होने से अनाज, खाद-बीज के भंडारण के लिए सामने आने वाली समस्याओं से लोगों को राहत मिलेगी। जिले में 12 गोदाम का निर्माण किया जाएगा। प्रत्येक गोदाम पर 12-12 लाख रुपए की राशि खर्च की जाएगी।

भूपेंद्र सिंह ज्याणी, एमडी, दी गंगानगर केंद्रीय सहकारी बैंक (जीकेएसबी)श्रीगंगानगर।

Krishan chauhan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned