वंचित रहे हेल्थ वर्कर्स में 25 को लगेगा अंतिम टीका, तीसरे चरण की तैयारी

- 50 साल की आयु से ऊपर के लोगों को लगेगा टीका

By: Raj Singh

Published: 24 Feb 2021, 12:22 AM IST

श्रीगंगानगर. कोविड-19 टीकाकरण को लेकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सचिव सिद्धार्थ महाजन की अध्यक्षता में वीसी हुई। सभी जिलों के समस्त चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों से कोविड-19 टीकाकरण के विषय में समीक्षा की गई। सचिव ने कहा कि वंचित रह गए सभी हेल्थ वकर्स को 25 फरवरी को टीकाकरण अभियान के अंतिम दिवस पर टीका लगेगा।

भारत सरकार की ओर से प्रथम चरण का टीकाकरण 25 फरवरी के बाद बंद कर दिया जाएगा। इसलिए वंचित रह गए हेल्थ वर्कर्स गुरुवार को टीकाकरण अवश्य कराएं। इसके बाद 50 वर्ष से ऊपर के लोगों को टीकाकरण किया जाना है। उन्होंने निर्देशित किया कि इस चरण में अधिक संख्या में लोगों को टीकाकरण किया जाना है।

इसलिए सीएमएचओ, सभी एसडीएम की सहायता से योजना बनाकर चलें व टीम गठित कर प्रशिक्षण दें। सेशन साईट्स की प्लानिंग कर लें व पूरी तैयारी रखें। जिन लोगों को टीकाकरण की द्वितीय डोज लगनी है, वे समय से टीकाकरण कराएं अन्यथा इसका असर शरीर पर नहीं होगा।

टीकाकरण की द्वितीय डोज 28 दिन बाद अवश्य लग जाए, इसका ध्यान समस्त सीएमएचओ रखेंगे। वीसी में एसडीएम उम्मेद सिंह रतनू, सीएमएचओ डॉ. गिरधारी लाल मेहरड़ा, आरसीएचओ डॉ. एसएस बराड़, डिप्टी सीएमएचओ करण आर्य आदि थे।


वैक्सीनेशन से पूर्व आधार का सत्यापन
- 50 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को कोविड-19 वैक्सीनेशन करने से पूर्व आधार के माध्यम से सत्यापन किया जाएगा। वैक्सीनेशन में वर्तमान में हेल्थ वर्कर तथा फ्रंट लाइन वर्कर का टीकाकरण करने से पूर्व संबंधित कंट्रोलिंग अधिकारी की ओर से सत्यापित किया जाता है।

कोविड डाटाबेस के माध्यमय से भविष्य में वैक्सीनेशन को आम नागरिकों का पंजीकरण प्रारम्भ होगा। कोविड-19 वैक्सीनेशन को प्रभावी बनाने के लिए आईवीआर बनाया जाए, जिससे पात्र लाभार्थियों का टीकाकरण किया जा सके। यह आवश्यक है कि लाभार्थियों का विश्वसनीय प्रमाणीकरण किया जा सके। कोविड सॉफ्टवेयर को इन्टरफेस के रूप में उपयोग करते हुए लाभार्थी की सहमति से बायोमेट्रिक, ईकेवाईसी या डेमोग्राफिक प्रमाणीकरण के माध्यम से आधार का उपयोग किया जाए।

टीकाकरण की गंभीरता को देखते हुए संबंधित अधिकारियों तथा टीकाकरण टीमों को निर्देशित करे कि वैक्सीनेशन के पूर्व प्रत्येक लाभार्थी का सत्यापन आवश्यक है।


वैक्सीनेशन का लक्ष्य 116 फीसदी रहा
- सीएमएचओ डॉ. गिरधारीलाल मेहरडा ने बताया कि जिले में द्वितीय चरण के कोविड वैक्सीनेशन का लक्ष्य 116 फीसदी रहा है। जो लक्ष्य से 16 प्रतिशत अधिक है। शेष रहे फ्रंट लाइन वर्करों को 25 को टीका लगाया जाएगा। वहीं 25 के बाद पचास साल से ऊपर की आयु के लोगों का टीकाकरण शुरू होगा। इसके लिए तैयारियां चल रही है।

Raj Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned