बैंक से निकलते ही पार हुई किसान बाप की गाढ़ी कमाई, अगले महीने है बेटी की शादी

बैंक से निकलते ही पार हुई किसान बाप की गाढ़ी कमाई, अगले महीने है बेटी की शादी

Nidhi Mishra | Publish: Sep, 06 2018 07:19:39 PM (IST) Sri Ganganagar, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

घड़साना/ श्रीगंगानगर। अगले माह बेटी की रखी शादी पर खरीदारी के लिए बैंक से रुपए निकालने के बाद वहीं पर अज्ञात युवकों ने पार कर लिए। बैंक में रुपए निकालने से पहले किसान की रैकी में लगे दो युवकों के सीसीटीवी फुटेज खंगाली गई है। इस संबंध में पुलिस ने अज्ञात युवकों के बारे में पड़ताल भी शुरु कर दी है।


सीसीटीवी फुटेज में दिखे युवक
सखी गांव के किसान हंसराज पुत्र पालाराम ओड ने बताया कि नईमंडी घड़साना में स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया से अपने खाते में से 60 हजार रुपए निकाल कर बैग में रखे। किसान बाइक पर लगी टोकरी में बैग रख कर रवाना हुआ। सीसीटीवी फुटेज देखने पर पता चला कि किसान के पीछे एक युवक रैकी कर रहा था। जबकि दूसरा साथी थोड़ी दूर खड़ा होकर शिकार को फंसाने की तैयारी में इंतजार करता दिखाई दे रहा था।


पहले भी एक किसान के पार हुए पचास हजार रूपए
चलते बाइक में से अज्ञात युवकों ने साठ हजार रुपए रखे पार कर लिए। सूचना मिलने पर थानाधिकारी मोहम्मद अनवर, हेडकांस्टेबल यशपाल सिंह, कांस्टेबल मूलसिंह आदि ने जांच पड़ताल कर अज्ञात युवकों की तलाश करवाई। पुलिस ने बैंक व आसपास लगे सीसीटीवी से फुटेज लेकर अज्ञात युवकों की धरपकड़ के लिए प्रयास कर रही है। इससे पहले दो माह पूर्व एक किसान के पचास हजार रुपए पार हो गए थे।


पिस्तौल तानी, स्प्रे छिड़का और की एटीएम लूटने की कोशिश
सदर थाना इलाके में उद्योग विहार में मंगलवार रात दो बदमाशों ने गाडज़् की कनपटी पर पिस्तौल लगाकर व आंखों में स्प्रे छिड़क कर एटीएम लूटने का प्रयास किया लेकिन एटीएम की लाइट बंद नहीं होने पर आरोपी वहां से भाग निकले।

जानकारी के अनुसार उद्योग विहार स्थित एसबीआई के एटीएम पर मंगलवार रात को गाडज़् श्रवण कुमार की ड्यूटी थी। वह रात डेढ़ बजे तक एटीएम के बाहर फोन पर बातें करता रहा। इसके बाद वह करीब दो बजे एटीएम कक्ष के अंदर जाकर कुसीज़् पर बैठ गया। करीब ढाई बजे दो युवक अचानक एटीएम का गेट खोलकर अंदर घुस आए। आते ही उनमें से एक जने ने उसकी कनपटी पर पिस्तौल लगा दी। एक जने ने उसकी आंखों में स्प्रे छिड़क दिया, जिससे उसकी आंखों में जलन होने लगी और दिखना बंद हो गया। दोनों ने गाडज़् को नीचे गिरा दिया और उससे पूछा कि लाइट कहां से बंद होगी। गाडज़् ने बताया कि लाइट बंद नहीं होती है। इस पर बदमाशों ने लाइट पर लगा शीशा तोड़ दिया लेकिन लाइट बंद नहीं हुई।

लाइट बंद नहीं होने पर वे बौखला गए और भाग निकले। दोनों जने दीवार कूदकर लौट गए। वह कुछ देर तक एटीएम कक्ष में ही बैठा रहा। जैसे ही आंखों से दिखने लगा तो उसने अपने सुपरवाइजर को घटना की जानकारी दी। सुपरवाइजर ने बैंक अधिकारियों व पुलिस को सूचित किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned