मध्यप्रदेश से श्रीगंगानगर तक फैला हथियार तस्करों का नेटवर्क, सप्लाई की कडिय़ां जोड़ रही पुलिस

- दो हथियार तस्कर रिमांड पर, पूछताछ जारी

By: Raj Singh

Published: 22 Nov 2020, 11:15 PM IST

श्रीगंगानगर. पिछले दिनों सदर थाना पुलिस की ओर से गिरफ्तार किए गए हथियारों के तस्करों का नेटवर्क मध्यप्रदेश तक जुड़ा हुआ है। आरोपी मध्यप्रदेश से हथियार मंगवाकर यहां सप्लाई करते हैं। पुलिस इनके नेटवर्क की कडिय़ां जोड़ रही है। दो आरोपी पुलिस रिमांड पर चल रहे हैं, जिनसे हथियार तस्करी के संबंध में गहनता से पूछताछ की जा रही है।


सदर थाना प्रभारी हनुमानाराम बिश्नोई ने बताया कि पुलिस अधीक्षक राजन दुष्यंत के निर्देश पर जिले में चलाए जा रहे अवैध हथियार, नशा आदि की धरपकड़ अभियान के दौरान मंगलवार रात को एएसआई ताराचंद गोदारा ने मय जाब्ते के मुखबिर की सूचना पर पदमपुर बाईपास पर अवैध हथियारों की सप्लाई करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की थी।

इस कार्रवाई के दौरान तिलकनगर वार्ड नंबर चालीस करणीमाता मंदिर के पास जेएनवी बीकानेर निवासी मालचंद पुत्र रामदेव व नेहरु कॉलोनी मजीठा रोड अमृतसर पंजाब निवासी दलजीत सिंह पुत्र धनवंत सिंह को गिरफ्तार किया था। इनसे पुलिस ने दो देसी पिस्टल व दो मैगजीन बरामद की थी।

पुलिस ने इस मामले में एक नाबालिग को भी निरुद्ध किया था। आरोपी मालचंद व दलजीत सिंह को बुधवार को अदालत में पेश किया गया, जहां से उनको रिमांड पर लिया गया था। इस दौरान आरोपियों से पूछताछ के बाद पुलिस ने मध्यप्रदेश से हथियार मंगलवाकर यहां सप्लाई करने वाले संगरिया हनुमानगढ़ हाल पदमपुर विश्वकर्मा भवन निवासी राजेन्द्र पुत्र महेन्द्र सिंह को गिरफ्तार किया था। इस पर पुलिस ने आरोपियों को अदालत में पेश किया था, जहां से राजेन्द्र सिंह व मालचंद को रिमांड पर लिया गया और दलजीत सिंह को न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया था।


थाना प्रभारी ने बताया कि मालचंद व राजेन्द्र सिंह ने हथियारों की तस्करी का नेटवर्क बनाया हुआ है। मालचंद पहले बीकानेर में टैक्सी चलाने का कार्य करता था। इसके बाद यह हथियारों की सप्लाई में लग गया। आरोपियों ने पुलिस को पूछताछ के दौरान बताया है कि वे मध्यप्रदेश से हथियार व कारतूस कोरियर के जरिए मंगवाते थे।

पुलिस को आरोपियों पर खुद मध्यप्रदेश जाकर वहां से अवैध हथियार लाने का संदेह भी है। इस संबंध में पुलिस इनके नेटवर्क में शामिल व्यक्तियों का भी पता लगा रही है।

Raj Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned