नाबालिग से दुष्कर्म का आरोपी गिरफ्तार

नाबालिग से दुष्कर्म का आरोपी गिरफ्तार

Jai Narayan Purohit | Updated: 20 Dec 2018, 11:07:24 PM (IST) Sri Ganganagar, Sri Ganganagar, Rajasthan, India

घड़साना.

खाजूवाला क्षेत्र की एक किशोरी को इलाज के बहाने घर बुला दुष्कर्म करने के मामले में पुलिस ने गुरुवार को फरार चल रहे आरोपी कम्पाउडर को गिरफ्तार किया है। यह मामला 25 नवम्बर को घड़साना थाने में यहां के निजी हॉस्पिटल के एक कम्पाउडर के खिलाफ दर्ज करवाया था। आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर विभिन्न संगठनों व परिवार जनों ने एक दिन पहले थाने के समक्ष धरना देकर रोष जताया था।

थानाधिकारी मोहम्मद अनवर ने बताया कि एफआईआर में पीडि़ता अपने पिता के साथ थाने में उपस्थित होकर लिखित शिकायत की थी। जिसमें आरोप था कि वह अपने भाई (मामा के पुत्र) के साथ हॉस्पिटल में कार्यरत कम्पाउडर के निर्देश पर जांच के लिए घर आई थी। तब कम्पाउडर बलबीर कुम्हार ने उसके भाई को बाहर बैठा दिया। आरोपित ने दुष्कर्म किया। पीडि़ता द्वारा एतराज करने व रोने पर आरोपित ने कैंची दिखा कर डराया।


थानाधिकारी ने बताया कि एफआईआर दर्ज होने के बाद पीडि़ता का मेडिकल मुआयना रामसिंहपुर के राजकीय चिकित्सालय की प्रभारी महिला चिकित्सक से करवाया गया। वहीं स्थानीय न्यायालय के संबंद्ध रखने वाले अनूपगढ़ न्यायालय में न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष बंद कमरे में बयान दर्ज करवाए गए। इस दौरान पुलिस चुनावी कार्य में व्यस्त रहने के कारण आरोपी मौके का फायदा उठा कर घर से फरार हो गया।

आरोपित की गिरफ्तारी के लिए उनके नेतृत्व में पुलिस ने टीम गठित की। उसके छुपने के संभावित स्थलों पर दबिश दी जा रही थी। इस बीच गुरुवार शाम को आरोपित बलबीर कुम्हार के बाजार में आने की सूचना मिली। तब वह स्वयं मौके पर पहुंच कर आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। थानाधिकारी ने बताया कि आरोपित बलबीर कुम्हार से घटनाक्रम के संबंध में पूछताछ की जा रही है। आरोपित को शुक्रवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned