अजमेर बोर्ड: 1 अप्रेल से प्रारंभ होगा परीक्षाओं का दौर, तैयारियां शुरू

परीक्षा-2021: सैद्धान्तिक से पहले होगा प्रायोगिक परीक्षाओं का आयोजन

By: Krishan chauhan

Published: 03 Mar 2021, 10:30 AM IST

परीक्षा-2021: सैद्धान्तिक से पहले होगा प्रायोगिक परीक्षाओं का आयोजन

अजमेर बोर्ड: 1 अप्रेल से प्रारंभ होगा परीक्षाओं का दौर, तैयारियां शुरू

श्रीगंगानगर. राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर की साल 2021 की प्रायोगिक परीक्षाएं 1 अप्रेल से शुरू होगी। इसी के साथ प्रदेश में अब परीक्षाओं का मौसम भी शुरू हो जाएगा। अजमेर बोर्ड से 12वीं में प्रायोगिक परीक्षाओं के लिए पंजीकृत नियमित विद्यार्थियों की प्रायोगिक परीक्षाएं 1 अप्रेल से 30 अप्रेल के मध्य जबकि स्वयंपाठी विद्यार्थियों के लिए 26 अप्रेल से 30 अप्रेल तक की अवधि के बीच आयोजित की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि प्रदेश भर में 10 हजार से ज्यादा परीक्षकों की ड्यूटी प्रायोगिक परीक्षा कार्य के लिए लगाई जा रही है। गत वर्ष की भांति बोर्ड ने परीक्षा में पारदर्शिता और नकल से रोकथाम के लिए पुख्ता बंदोबस्त करते हुए विशेष उडऩ दस्तों का गठन भी इन परीक्षाओं के लिए किया जा रहा है।
-प्रायोगिक परीक्षा के लिए निर्धारित है 11 विषय

बोर्ड की ओर से उच्च माध्यमिक परीक्षा के लिए विज्ञान और कला वर्ग में कुल 11 विषयों में प्रायोगिक परीक्षाए आयोजित की जाएगी। इसमें से भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान, कृषि-रसायन विज्ञान, कृषि-जीव विज्ञान, मनोविज्ञान, गृह विज्ञान, भूगोल तथा सूचना एवं प्रौद्योगिकी विषयों में प्रायोगिक परीक्षा के लिए 30-30 अंक निर्धारित किए गए हैं। जबकि कला संकाय अन्तर्गत संगीत और चित्रकला विषयों में 70 -70 अंकों की प्रायोगिक परीक्षा होगी।
-परीक्षकों को ऑनलाइन भेजने होंगे सत्रांक

इस वर्ष भी बोर्ड द्वारा प्रायोगिक परीक्षाओं के प्राप्तांक परीक्षकों से ऑनलाइन बोर्ड पोर्टल पर अपडेट करवाए जाएंगे। गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण के चलते पिछले साल बोर्ड ने सैद्धान्तिक परीक्षाओं में विद्यार्थियों की ओर से प्राप्त किए गए अंकों को बोर्ड पोर्टल पर ऑनलाइन फीड करवाया गया था। जिसके कारण बोर्ड को परिणाम जल्दी जारी करने में काफी मदद मिली थी। इस आधार पर बोर्ड द्वारा प्रायोगिक परीक्षा-2021 के लिए भी इस व्यवस्था को अपनाया गया है।
60 फीसदी प्रश्नों में से पूछे जाएंगे सवाल

कोविड-19 संक्रमण के कारण इस साल बच्चों को पढ़ाई के लिए बहुत कम समय मिला है। जिसे देखते हुए बोर्ड ने 9वीं से 12वीं कक्षा के लिए परीक्षा की दृष्टि से पाठ्यक्रम में लगभग 40 प्रतिशत की कटौती कर दी थी। वहीं इस साल सभी विषयों के प्रश्नपत्र को भी पहले से सरल किया गया है जिससे परीक्षार्थियों के लिए कठिनाई का स्तर कम से कम हो सके।
फैक्ट फाइल

राज्य में मा. शिक्षा के सरकारी स्कूल-14793
जिले में मा. शिक्षा के सरकारी स्कूल-484

प्रदेश में पंजीकृत विद्यार्थी-21.50 लाख
जिले में पंजीकृत विद्यार्थी- 55.8 हजार

(पंजीकृत विद्यार्थी अनुमानित संख्या)

अजमेर बोर्ड की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं 6 मई से प्रारंभ होनी हैं। जबकि प्रायोगिक परीक्षा के लिए 1 अप्रेल से 30 अप्रेल तक का समय निर्धारित किया गया है। प्रायोगिक विषयों के लिए अंक योजना बोर्ड की ओर से जारी प्रपत्र-51 के अनुसार होगी।
-भूपेश शर्मा सहसंयोजक, जिला समान परीक्षा योजना,माध्यमिक शिक्षा, श्रीगंगानगर

Krishan chauhan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned