बुजुर्गों पर कोरोना का प्रभाव सबसे पहले, सावधान रहें

Beaware of Corona : इन दिनों कोरोना की आशंका हर तरफ है। श्रीगंगानगर जिला मुख्यालय पर अब तक इस रोग के कई संदिग्ध आ चुके हैं। इनके सैंपल जांचे जा रहे हैं। हालांकि कोई पॉजिटिव अब तक सामने नहीं आना इलाके के लिए अच्छा है लेकिन चिकित्सक बताते हैं कि सावधान रहें।

श्रीगंगानगर. इन दिनों कोरोना की आशंका हर तरफ है। श्रीगंगानगर जिला मुख्यालय पर अब तक इस रोग के कई संदिग्ध आ चुके हैं। इनके सैंपल जांचे जा रहे हैं। हालांकि कोई पॉजिटिव अब तक सामने नहीं आना इलाके के लिए अच्छा है लेकिन चिकित्सक बताते हैं कि सावधान रहें। इस बारे में वरिष्ठ चिकित्सक एवं राजकीय जिला चिकित्सालय के पूर्व विशेषज्ञ डॉ.पीयूष राजवंशी का कहना था कि हमें संघर्ष के लिए तैयार रहना होगा।

बुजुर्गों को इम्युनिटी बढ़ाने के लिए प्रयास करना चाहिए। इसके अलावा उन्हें सावधानी बरतना भी जरूरी है। जब तक बेहद जरूरी नहीं हो लोगों के बीच नहीं जाएं। जिन लोगों को खांसी-जुकाम हैं उनके नजदीक बिलकुल नहीं जाएं। सोशल डिस्टेंसिग भी जरूरी है। इसके बिना कोई बचाव नहीं हो सकता है।

देशी उपाय भी करें उपयोग
इसके साथ ही देशी उपचार काली मिर्च, लौंग, अदरक आदि का उपयोग भी इम्युनिटी बढ़ाता है। एलोपैथिक दवाओं में काली मिर्च से संबंधित एक साल्ट भी बनाया गया है जो दवाओं की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ता है। ऐसे में इन देशी चीजों का उपयोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकता है।

सावधान रहें ये लड़ाई लंबी है
डॉ.राजवंशी का कहना है कि बेहद सावधान रहते हुए काम करना होगा। उनका कहना था कि लगातार कोरोना की परिस्थतियों के बीच काम करने वालों को चाहिए कि वे घर पहुंचते ही सावधान रहें कि कहीं वायरस उनके घर तक नहीं पहुंच जाए। अपने मास्क को एक तरफ टांग दें। कपड़े प्रति दिन नए धुले हुए पहनें।

मोबाइल भी खतरनाक
कोरोना वायरस अपेक्षाकृत अधिक समय तक मोबाइल स्क्रीन पर रहता है, ऐसे में बाहर जाने वाले ध्यान रखें कि घर लौटते ही मोबाइल स्क्रीन को भी सेनेटाइज करें। इसके अलावा भी सेनेटाइजर का उपयोग लगातार करें। अपने दस्ताने आदि जिन्हें फील्ड में रहने के दौरान उपयोग किया गया है, उन्हें भी खोलकर एक तरफ रखना चाहिए। दस्तानों का उपयोग भी लगातार नहीं करें। इसी से बच्चों का बचाव हो सकता है। सबसे बेहतरीन उपाय है कि हम कोरोना वायरस की परिस्थितियों में पूरा दिन काम करने के बाद शाम को घर लौटने पर अच्छे से स्नान करना चाहिए। संक्रमण नाशक पौंछे का उपयोग भी बार-बार करते रहना चाहिए।

jainarayan purohit Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned