लॉक डाउन की आड़ में बजट फूंकने का खेल

Budget blowing game under lock-down स्वामी दयानंद मार्ग पर गुणवत्ता की अनदेखी कर बन रहा है मुख्य नाला .

By: surender ojha

Updated: 19 Apr 2020, 03:10 PM IST

श्रीगंगानगर. इलाके में लॉक डाउन के बावजूद नगर परिषद की मनमर्जी का खेल चल रहा है। एक ओर राज्य सरकार सरकरी खजाना खाली होने का दावा करते हुए राज्य कर्मियों के वेतन से कटौती कर रही है।

जनप्रतिनिधियों के निधि कोष पर भी कैँची चला दी है। यहां तक कि पेंशनधारकों को भी कोरोना की वजह से जेब ढीली करनी पड़ रही है। वहीं मजदूर और मध्य वर्गीय परिवारों की इस लॉक डाउन की वजह से कमर टूट रही है।

लेकिन नगर परिषद प्रशासन ने जरुरत नहीं होने के बावजूद पन्द्रह लाख रुपए का बजट खर्च कर रही है। यह बजट गुपचुप तरीके से किया जा रहा है ताकि शिकायत करने वाले इस लॉक डाउन में हंगामा नहीं करें। जिला मुख्यालय पर रेलवे स्टेशन से सटे पंचायती धर्मशाला के कार्नर से लेकर गुरु तेग बहादूर रोड तक स्वामी दयानंद मार्ग पर मुख्य नाले का निर्माण कार्य शुरू हो गया है।

इस नाले निर्माण पर करीब 15 लाख रुपए का बजट खर्च किया जा रहा है। नगर परिषद प्रशासन ने दावा किया है कि शहर के उन सभी मुख्य नालों को पहचान की है जिसमें किसी न किसी अड़चन से बरसाती पानी निकासी नहीं हो पा रही है।

ऐसे मुख्य नालों में से स्वामी दयानंद मार्ग को प्राथमिकता से दुरुस्त कराने का निर्णय किया। नगर परिषद के कनिष्ठ अभियंता सिद्धार्थ जांदू ने बताया कि पंचायती धर्मशाला के कार्नर से लेकर रवीन्द्र पथ तक मुख्य नाले को दुरुस्त कराने की प्रक्रिया अपनाई जाएगी।

पहले चरण में इस नाले का निर्माण कार्य शुरू किया गया है। लॉक डाउन की वजह से मजदूर और कारीगर कम आ रहे है, ऐसे में ठेकेदार अपने स्तर पर इन मजदूर और कारीगरों की व्यवस्था कर नाला निर्माण करवा रहा है।

जांदू ने दावा किया कि पंचायती धर्मशाला से लेकर आर्य समाज मंदिर तक मुख्य नाला जर्जर हो चुका था। इस रोड पर कई गलियों की क्रॉसिंग के लिए पुलियों का निर्माण भी करवाया जा रहा है।

इधर, रवीन्द्र पथ का जीर्णोद्धार नगर परिषद प्रशासन की ओर से जर्जर हो चुके रवीन्द्र पथ का जीर्णोद्धार शुरू हो गया है। इस रोड पर वाहनों की आवाजाही अधिक रहती है, इस कारण करीब एक महीने पहले नगर परिषद प्रशासन ने ट्रैफिक को वनवे कराया था लेकिन लॉक डाउन की वजह से सडक़ बनाने का काम रोक दिया गया। अब ठेकेदार ने इस रोड को बनाने के लिए नगर परिषद आयुक्त और सभापति से अनुमति ली है।

surender ojha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned