छात्राएं हुई परेशान...पांच दिन से साइट ठप होने से प्रवेश की प्रक्रिया पर ब्रेक

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

By: vikas meel

Published: 24 Jul 2018, 08:36 PM IST

-राजकीय अनुसूचित जाति कन्या महाविद्यालय स्तरीय छात्रावास से जुड़ा मामला

श्रीगंगानगर.

राजकीय अनुसूचित जाति कन्या महाविद्यालय स्तरीय छात्रावास में पांच दिन से ऑनलाइन साइट बंद होने से बेटियों की प्रवेश प्रक्रिया पर ब्रेक लग गया। इस कारण प्रवेश लेने वाली बेटियों की परेशानी बढ़ गई।

यात्रियों के डिब्बे छोड़ दो किमी आगे चला गया ट्रेन का इंजन, मची अफरा-तफरी

हालांकि छात्राओं ने पहले ऑनलाइन आवेदन तो कर दिया लेकिन इसमें कई अभिभावकों ने ऑनलाइन प्रक्रिया के ऑप्शन में कॉलेज व स्कूल अंकित कर दिया। इसमें कई बार बेटियों के माता-पिता स्कूल व कॉलेज के चयन में गफलत कर देते हैं। इस कारण आवेदन पर ऑबजेक्शन लगकर संबंधित कार्मिक के पास आता है। फिर चयन की प्रक्रिया होती है।

हत्या के मामले में दोषी को आजीवन कारावास

महाविद्यालय स्तरीय छात्रावास में बालिकाओं के लिए 50 सीट है। इसमें 28 बेटियों की प्रवेश प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है और अब छह दिन से छात्रावास में कार्मिक की व्यक्तिगत आईडी पर ऑनलाइन आवेदन नहीं होने से प्रवेश लेने वाली बेटियों व उनके माता-पिता की परेशानी बढ़ गई। कॉलेज में बेटियों का प्रवेश हो चुका है और कक्षाएं भी शुरू हो चुकी है लेकिन जब तक छात्रावास में प्रवेश नहीं हो पाता है तब तक उन्हें परेशानी हो रही है।

ट्रेलर की टक्कर से ट्रैक्टर सवार दो युवकों की मौत

महाविद्यालय स्तरीय छात्रावास अधीक्षक अनसूईया का कहना है कि शुक्रवार से छात्रावास में ऑनलाइन आईडी कार्मिक के व्यक्ति पर शुरू की गई जो अब बंद पड़ी है। । इस कारण प्रवेश की स्थित पता नहीं चल पा रहा है। । अब विभागीय कार्मिक की व्यक्तिगत आईडी पर डाटा ऑनलाइन किया जा रहा है और यह प्रक्रिया जयपुर से सीधे हो रही है। शाम को आईडी शुरू होने पर दो बेटियों की प्रवेश की प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है।

प्रदूषण मामले की जांच के लिए कमेटी गठित

Show More
vikas meel
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned