पांच साल का हिसाब देने के लिए निकाली जा रही यात्रा: राजे

पांच साल का हिसाब देने के लिए निकाली जा रही यात्रा: राजे

Jai Narayan Purohit | Publish: Sep, 07 2018 06:39:50 PM (IST) Sri Ganganagar, Rajasthan, India

अनूपगढ़ (श्रीगंगानगर).

यह वो अनूपगढ़ है, जिसे हम भुला नहीं सकते। यहां अनेक उतार-चढ़ाव हुए हैं, परन्तु पिछले चुनाव में आप लोगों ने हमारी विधायक को जिताने का काम किया, जिसके लिए मैं सभी लोगों की आभारी रहूंगी। यह बात मुख्यमंत्री वसुधंरा राजे ने नई धान मंडी में आयोजित सभा को सम्बोधित करते हुए कही। मुख्यमंत्री राजे की ओर से निकाली जा रही राजस्थान गौरव यात्रा के तीसरे चरण में अनूपगढ़ में आयोजित सभा में हजारों की भीड़ उमड़ी।


पौने तीन घण्टे देरी से पहुंची मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने नहरी तंत्र को मजबूत करने का काम किया है। 138 करोड़ रुपए की लागत से अनूपगढ़ शाखा की अनेक वितरिकाओं का जीणोज़्द्धार करने का काम किया। इसी प्रकार 200 करोड़ की लागत से गंगनहर में काम करवाया। उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी नहर परियोजना इस क्षेत्र के लिए वरदान साबित हुई, कांग्रेस इस चीज को भूल चुकी है। अगर नहर पर लगातार कायज़् होता तो पूरे राज्य के लिए वरदान साबित होता।

वसुंधरा राजे ने दावा किया कि प्रदेश के साथ-साथ अनूपगढ़ विधानसभा क्षेत्र में भारी संख्या में स्कूलों को क्रमोन्नत करके बालिका शिक्षा को बढ़ाने के लिए स्कूटी और लैपटॉप योजना का लाभ छात्राओं को दिया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार के शासन में सभी वगोज़्ं को एक समान महत्व देते हुए विकास के कायज़् करवाए गए। उन्होंने महिला सुरक्षा पर बोलते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने छोटी बालिकाओं के साथ दुष्कमज़् करने वालों का फांसी की सजा देने के प्रावधान को लागू कर दिया है।

मुख्यमंत्री ने अनूपगढ़-सूरतगढ़ सीसी रोड को इलाके के लिए बड़ी उपलब्धि बताया। उन्होंने राज्य और केन्द्र सरकार की योजनाओं को गिनाते हुए भामाशाह स्वास्थ्य योजना के 2 लाभाॢथयों को मंच पर बुलाकर जनता के साथ उन पात्र परिवारों को मिले लाभों को गिनवाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि भामाशाह स्वास्थ्य योजना में गरीबों को निजी अस्पतालों में भी नि:शुल्क इलाज मिल रहा है। इसके अलावा सरकार ने शिक्षकों के पदों पर भतीज़् करने के साथ-साथ लाखों बेरोजगारों को नौकरी दी।

उन्होंने पौंगडैम भूमि खरीदारों की समस्या का जिक्र करते हुए बताया कि समाधान के लिए हिमाचल के मुख्यमंत्री आज ही जयपुर में सरकार के मंत्रियों से वाताज़् कर रहे हैं।सरकार उपलब्धियां गिनाने के दौरान उन्होंने अनूपगढ़ में सरकारी कॉलेज के लिए भवन बनाकर देने वाले भामाशाह नरेन्द्र छाबड़ा उफज़् डब्बू एवं मोहित छाबड़ा का धन्यवाद ज्ञापित किया। इस मौके पर कांग्रेस द्वारा गौरव यात्रा के किए जा रहे विरोध पर कहा कि यह यात्रा जनता को 5 सालों का हिसाब देने के लिए निकाली जा रही है।

लगभग आधा घण्टे के भाषण में मुख्यमंत्री ने किसानों के माफ किए गए कजज़् का जिक्र भी किया। मंच संचालन सतपाल मुंजाल ने किया। सभा के दौरान सुरक्षा व्यवस्था के अभूतपूवज़् बंदोबस्त रहे।

 

इससे पहले शुक्रवार सुबह से ही अनूपगढ़ के अलावा घड़साना, रावला, 365 हैड, रोजड़ी और रामङ्क्षसहपुर आदि मंडियों के अलावा गांवों से बसों, टै्रक्टर-ट्रालियों तथा अन्य वाहनों से ग्रामीण सभा स्थल पर पहुंचे। माकपा ने मुख्यमंत्री को काले झण्डे दिखाने की घोषणा भी की थी,लेकिन जबरदस्त सुरक्षा इंतजामों के चलते माकपा कायज़्कताज़् कहीं नजर नही आए।


ङ्क्षसचाई पानी एवं जिले का मुद्दा रहा गौण

मुख्यमंत्री की सभा में वसुंधरा राजे ने लगभग आधे घण्टे के अपने सम्बोधन में एक बार भी ङ्क्षसचाई पानी की समस्या एवं अनूपगढ़ को जिला बनाने की महत्वपूणज़् मांग का जिक्र नहीं किया। ये दोनों ही मुद्दे अनूपगढ़ विधानसभा क्षेत्र के लिए अहम हैं। एक ओर जहां ङ्क्षसचाई पानी की समस्या के तहत किसान पिछले 18 साल से धरने-प्रदशज़्न एवं आन्दोलन के माध्यम से संघषज़् करते आ रहे हैं और वतज़्मान में घड़साना क्षेत्र में पानी के लिए आन्दोलन चल रहा है तथा माकपा एवं कांग्रेस इस मुद्दे को राजनीतिक रंग देते भुनाने के प्रयास कर रहे हैं। जिले की मांग को लेकर चल रहे अनूपगढ़ जिला बनाओ धरने का भी मुख्यमंत्री ने जिक्र तक नहीं किया।

घड़साना को नगरपालिका बनाने की घोषणा

सभा में मुख्यमंत्री ने विधायक शिमला बावरी सहित पाटीज़् के अन्य नेताओं की मांग पर घड़साना को नगरपालिका बनाने की घोषणा कर दी। मुख्यमंत्री की इस घोषणा के बाद सभा में मौजूद हजारों लोगों ने खूब तालियां बजाई। राजे के पिछले कायज़्काल में घड़साना को नगरपालिका घोषित करने के बाद कुसूम माहेश्वरी को प्रथम अध्यक्ष के रूप में नियुक्त भी कर दिया गया था, लेकिन बाद में कांग्रेस का शासन आते ही घड़साना को पुन: ग्राम पंचायत में तबदील कर दिया था।

यह नेता रहे मंचासीन
सभा के लिए बनाए गए मंच पर मुख्यमंत्री राजे के अलावा राज्य के स्वायत्त शासन मंत्री श्रीचंद कृपलानी, नोहर विधायक अभिषेक मटोरिया, ङ्क्षसचाई मंत्री डॉ.रामप्रताप, अनूपगढ़ विधायक शिमला बावरी, भाजपा के पूवज़् प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी, जवाहर ङ्क्षसह बेढ़म, जिला प्रमुख प्रियंका श्योराण, राष्ट्रीय कवि अब्दुल गफार तथा महिला सुरक्षा राष्ट्रीय मंच की अध्यक्ष बबीता शमाज़् प्रथम पंक्ति में मौजूद थे।

जबकि भाजपा एस.सी.एस.टी. प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष ओ.पी.महेन्द्रा, भाजपा खेल समिति के प्रदेश प्रभारी मोहित छाबड़ा भाजपा युवा मोचाज़् प्रदेशाध्यक्ष प्रियंका बैलाण, सूरतगढ़ विधायक राजेन्द्र भादू, पंचायत समिति प्रधान पुलकित बलाना, भाजपा जिलाध्यक्ष हरी ङ्क्षसह कामरा, बिशंबर पूनिया, भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष मनोज जोशी, नगरपालिका के नेता प्रतिपक्ष सतपाल मुंजाल, युवा नेता अविनाश डाबी, भाजपा किसान मोचाज़् प्रदेशाध्यक्ष आत्माराम तरड़, उप जिला प्रमुख नक्षत्र ङ्क्षसह रमाणा, अल्पसंयक आयोग के अध्यक्ष सरदार जसवीर ङ्क्षसह, बीकानेर सभाग प्रभारी विजय आचायज़् और सादुलशहर विधायक गुरजंट ङ्क्षसह बराड़ भी सभा में मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned