scriptChildren will be vaccinated from three, one and a half lakh children w | बच्चों का तीन से होगा वैक्सीनेशन, जिले में डेढ़ लाख बच्चों को लगेगी डोज | Patrika News

बच्चों का तीन से होगा वैक्सीनेशन, जिले में डेढ़ लाख बच्चों को लगेगी डोज

- कोवैक्सीन की डोज लगाने के निर्देश

श्री गंगानगर

Published: December 29, 2021 11:23:39 pm

श्रीगंगानगर. देश व राज्य में कोरोना के ओमिक्रॉन व डेल्मीक्रॉन वायरस के तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए अब वैक्सीनेशन से बचे बच्चों को भी डोज लगाने की तैयारी शुरू कर दी गई है। जिले में करीब डेढ़ लाख को वैक्सीन की डोज लगाई जाएगी। जिसकी शुरूआत तीन जनवरी होगी। बच्चों को कोवैक्सीन की डोज दी जाएगी।
बच्चों का तीन से होगा वैक्सीनेशन, जिले में डेढ़ लाख बच्चों को लगेगी डोज
बच्चों का तीन से होगा वैक्सीनेशन, जिले में डेढ़ लाख बच्चों को लगेगी डोज

चिकित्सा अधिकारियों ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव को लेकर अब तीन जनवरी से 15 से 18 वर्ष की आयु तक के बच्चों को वैक्सीन की डोज लगाई जाएगी। इसके लिए जिले में चिकित्सा विभाग ने सभी तैयारियां कर ली है।
जयपुर से जिले में 149730 बच्चों को डोज देने का लक्ष्य रखा गया है। यह आंकड़ा चिकित्सा विभाग जयपुर की ओर से संभावित माना गया है। यह आंकड़े सभी जिलों के चिकित्सा अधिकारियों को भेज दिए गए हैं।

चिकित्सा अधिकारियों ने बताया कि 3 जनवरी से सभी विद्यालयों में शीतकालीन अवकाश समाप्त हो जाएगा और विद्यालय शुरू हो जाएंगे। इसी दिन से बच्चों में वैक्सीनेशन की शुरूआत की जाएगी। इसके लिए कोवैक्सीन की डोज दी जाएगी। बच्चों के वैक्सीनेशन अभियान को हर घर दस्तक अभियान से भी जोड़ा जा सकता है। चिकित्सा विभाग ने तैयारियां शुरू की है।

इस आयु वर्ग के जिले में करीब डेढ़ लाख बच्चों को पहले चरण में सुरक्षा चक्र के दायरे में लाया जाएगा। बच्चों को वैक्सीनेशन के लिए चिकित्सा विभाग जयपुर से अभी पूरी गाइड लाइन नहीं मिली है।

इनका कहना है
- जिले में एक लाख 49 हजार 730 किशोर-किशोरियों को वैक्सीन की डोज लगाने का लक्ष्य रखा गया है। तीन जनवरी से वैक्सीनेशन शुरू किया जाएगा। इसके लिए चिकित्सा विभाग की ओर से तैयारियां की जा रही है। इनको कोवैक्सीन की डोज लगाई जाएगी।
- डॉ. एचएस बराड, आरसीएचओ एवं वैक्सीन प्रभारी श्रीगंगानगर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.