संविदा चालकों ने लगाया आगार के बाहर धरना

संविदा पर कार्यरत चालकों ने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि वह पिछले कई वर्षों से स्थाई चालकों की तरह अपना कार्य करते आ रहे है।उन्होने कहा कि चालकों द्वारा निर्धारित समय से अधिक सेवाएं दी जा रही है। लेकिन न ही तो चालकों को ओवर टाइम का वेतन दिया जाता है तथा न ही किसी प्रकार के भत्ते दिए जा रहे हैं।

By: Ajay bhahdur

Published: 13 Aug 2019, 07:31 PM IST

अनूपगढ़ (श्रीगंगानगर). राजस्थान रोडवेज संविदा चालक संघ के राज्य व्यापी आह्वान पर स्थानीय डिपों में कार्यरत चालको ने कार्य बहिष्कार कर आगार के बाहर अनिश्चितकाल के लिए धरना लगा दिया। संविदा पर कार्यरत चालकों ने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि वह पिछले कई वर्षों से स्थाई चालकों की तरह अपना कार्य करते आ रहे है।उन्होने कहा कि चालकों द्वारा निर्धारित समय से अधिक सेवाएं दी जा रही है। लेकिन न ही तो चालकों को ओवर टाइम का वेतन दिया जाता है तथा न ही किसी प्रकार के भत्ते दिए जा रहे हैं। उन्हें वर्तमान में प्लेसमेंट एजेंसी के माध्यम से एक माह कार्य करने पर महज ५८३७ रुपए का मानदेय दिया जा रहा है जो न्यूनतम वेतन से भी क म है। संविदा चालकों ने कार्य का बहिष्कार कर मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री, परिवहन मंत्री सहित अन्य को ८ सूत्री मांग पत्र भी भेजा है। इसमें वेतन सामान कार्य सेलेरी का भुगतान करने, चालकों की सेलरी में कटौती न कर हर माह की ५ तारीख को सैलेरी का भुगतान मैनेजमेंट से किए जाने आदि मांगें शामिल हैं। धरने पर निशान ङ्क्षसह हेतराम, बलविंद्र, जगसीर ङ्क्षसह सहित अन्य संविदा चालक धरने पर बैठे।

Ajay bhahdur
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned